Bhopal Domestic Violence : मुकदमों ने खोली पति की यातना की कहानी

Share

Bhopal Domestic Violence:खुदकुशी के मामले में आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज

Bhopal Domestic Violence
सां​केतिक चित्र

भोपाल। महिला के मौत की वजह दर्ज मुकदमों से निकलकर बाहर आ गई। घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के गोविंदपुरा इलाके (Bhopal Domestic Violence) की है। मामला एक महिला की आत्महत्या से जुड़ा है। उस महिला ने पति के खिलाफ कई बार थाने में शिकायत की थी। पति उसको आत्महत्या के लिए उकसाता (Bhopal Crime Against Woman) था। परिजनों के बयान दर्ज करने के बाद आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया गया है।

नौ साल पहले हुई थी शादी

गोविंदपुरा थाना पुलिस ने बताया 30 वर्षीय रजनी यादव (Rajni Yadav) पति वीरेंद्र यादव (Virendra Yadav) निवासी बरखेड़ा पठानी की रहने वाली थी। रजनी का मायका चंदेरी ग्राम गुनगा का है। वीरेंद्र से उसकी शादी नौ वर्ष पहले हुई थी। दोनों के दो बच्चे भी है। पति एमपी नगर में गार्ड की नौकरी करता है। वीरेंद्र कई अरसे से रजनी को प्रताड़ित कर रहा था। इसकी शिकायत उसने कई बार परिजनों से भी की थी। परिजनों ने वीरेंद्र के खिलाफ थानों में मारपीट और प्रताड़ना के मुकदमे भी दर्ज कराए थे। पुलिस भी वीरेंद्र को समझा चुकी थी। रजनी रोज—रोज की प्रताड़ना से तंग आ गई थी। इससे पहले भी उसने कई बार आत्मघाती कदम उठाने की कोशिश की थी।

दो दिन पहले लगाई थी फांसी

परिजनों ने बताया शुक्रवार को रजनी उसके मामा के घर जाने की जिद कर रही थी। लेकिन, वीरेंद्र ने उसे जाने से इंकार कर दिया था। दोनों में इस बात को लेकर विवाद हुआ था। विवाद में वीरेंद्र ने उसे दो थप्पड़ भी मारे थे। रजनी का कहना था वह मर जाएगी। वीरेंद्र ने रोकने की बजाय उसको उकसाया। उसके जाने के बाद रजनी ने कमरे में फांसी का फंदा बनाकर लटक गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया था। घटना के बाद पुलिस ने परिजनों और आसपास के लोगों के बयानों के बाद वीरेंद्र के खिलाफ धारा (498ए/306 प्रताड़ना और आत्महत्या) के लिए उकसाना का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: नर्सिग छात्रा को मनचले ने कर दिया शर्मसार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!