Corona Curfew Extend:  एमपी में 7 मई तक बढ़ा लॉक डाउन

Share

Corona Curfew Extend: सीएम के साथ समीक्षा बैठक के बाद गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की घोषणा

Corona Curfew Extend
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

भोपाल। मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक बार फिर कोरोना कर्फ्यू बढ़ाने (Corona Curfew Extend) का आदेश दे दिया है। इसकी शुरुआत प्रदेश में 12 अप्रैल से हुई थी। इस दौरान दो बार अलग—अलग तारीखों में इसकी घोषणा की गई। सरकार ने कोरोना कर्फ्यू के चलते रिकवरी रेट पर कामयाबी पाने का भी दावा किया है। इससे पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना को लेकर तीन वर्ग में विभाजन के बाद जिलावार समीक्षा की थी। एमपी में ताजा कोरोना कर्फ्यू के आदेश की घोषणा गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की है।

यह भी पढ़ें: मानवता को शर्मसार करने वाली यह तस्वीरें जो आज हमें तो भविष्य में भाजपा को विचलित करेगी, जानिए क्यों

एमपी ग्यारहवें नंबर पर आया

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) के कार्यालय से जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि कोरोना संक्रमण को नियंत्रण करने के लिए किए गए प्रयासों में सरकार को सफलता मिली है। रिकवरी रेट में वृद्धि हुई है। प्रदेश में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन की उपलब्धता की चिंता और उसके प्रयास सरकार की तरफ से किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पॉजिटिव रेट कम आना शुरु हो गए है। प्रदेश स्तर पर पिछले दिनों के मुकाबले 1531 केस कम दर्ज किए गए हैं। खंडवा (Khandwa), बुरहानपुर और छिंदवाड़ा (Chhindwara) से बेहतर परिणाम मिले हैं। यही कारण है कि प्रदेश संक्रमण के मामले में छठे पायदान से खिसककर अब 11वें नंबर पर आ गया है।

यह भी पढ़ें:   Rewa Murder Case: मां को बचाने बेटे ने की पिता की हत्या

मंडी कर्मचारी के मृत्यु होने पर मिलेंगे 25 लाख

Corona Curfew Extend
मंत्री कमल पटेल

सरकार ने फैसला लेते हुए गरीबों को तीन महीने का अनाज देने का ऐलान किया है। इसके लिए थंब मशीन में अंगूठा लगाने की बाध्यता को समाप्त करने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा सरकार ने कृषि मंडी के 31 कर्मचारियों की मौत के मामले में भी फैसला लिया है। इन कर्मचारियों की कोरोना काल में ड्यूटी के दौरान संक्रमण में आकर मौत हुई है। सरकार ने ऐसे कर्मचारियों के परिजनों को 25 लाख रुपए देने की घोषणा की है। मंडी कर्मचारियों को इलाज के लिए एडवांस भी दिया जाएगा। सरकार के इस फैसले की जानकारी कृषि मंत्री कमल पटेल के कार्यालय से जारी प्रेस विज्ञप्ति में दी गई है।

Don`t copy text!