Bhopal News: प्रेस—पॉलिटिशियन समेत चार रंगदारी के आरोप में गिरफ्तार

Share

Bhopal News: ट्रेन में जबलपुर के कारोबारी को नकली क्राइम ब्रांच वाला बनकर साढ़े तीन लाख रुपए छीने

Bhopal News
भोपाल एसआरपी कार्यालय— फाइल फोटो

भोपाल। आप यकीन नहीं करेंगे लेकिन, यह बिलकुल सही है। खंडवा जीआरपी ने चार व्यक्तियों को दबोचा है। इनमें एक भाजपा का पूर्व पार्षद, आरपीएफ कांस्टेबल, टीवी—चैनल का रिपोर्टर और एक बिल्डर शामिल है। चारों आरोपियों ने एक व्यापारी से साढ़े तीन लाख रुपए छीन लिए थे। ऐसा करने के लिए आरोपियों ने क्राइम ब्रांच का नकली अधिकारी बनकर व्यापारी को धमकाया था। गिरफ्तारी में सीसीटीवी कैमरा और मोबाइल कॉल डिटेल से पुलिस को बहुत मदद मिली है। यह खुलासा भोपाल (Bhopal News) एसआरपी ने किया है।

बैग में थे पांच लाख रुपए

भोपाल एसआरपी हितेश चौधरी (Bhopal SRP Hitesh Choudhry) की तरफ से इस संबंध में वीडियो बयान जारी करके ​मीडिया को बताया गया कि मामला खंडवा जीआरपी में 24 अक्टूबर को इस संबंध में शिकायत मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने धारा 384/170/419/34 (रंगदारी मांगना, नकली पुलिस अधिकारी बनना, जालसाजी और एक से अधिक आरोपी) का प्रकरण दर्ज किया। शिकायत कृष्णकांत पटेल पिता गौतम प्रसाद पटेल उम्र 35 सालने दर्ज कराई। वह जबलपुर (Jabalpur) स्थित सुहागी के शंकर नगर इलाके में रहता है। उसने बताया कि 22 अक्टूबर को वाराणासी एलटीटी एक्सप्रेस के एस—4 कोच में सफर कर रहा था। वह कारोबार के सिलसिले में मुंबई (Mumbai) जा रहा था। बुरहानपुर स्टेशन पर उसे दो व्यक्ति मिले। जिन्होंने क्राइम ब्रांच का बनकर चैकिंग के नाम पर उसका बैग देखा। बैग में पांच लाख रुपए रखे हुए थे।

यह भी पढ़ें:   Transfer-Posting Racket: सांसदों और विधायकों के फर्जी लेटर पेड

कई अन्य अभी भी फरार

Bhopal News
रेलवे कोच यार्ड का फाइल फोटो

पुलिस के अनुसार जबलपुर (Jabalpur) के शीतला माई वार्ड नंबर 45 निवासी नरेन्द्र वर्मा पिता स्वर्गीय ओपी वर्मा उम्र 50 साल कारोबारियों पर निगाह रखता था। वह भाजपा का पूर्व पार्षद भी है। नरेन्द्र वर्मा (Narendra Verma) ऐसे कारोबारी जो रकम इधर—उधर करते हैं। उनकी जानकारी जुटाकर जबलपुर के ग्वारीघाट निवासी सचिन राव पिता स्वर्गीय लक्ष्मण राव उम्र 43 साल को दी। सचिन राव (Sachin Rao) एक न्यूज चैनल का ब्यूरो चीफ था। वह कृष्णकांत पटेल (Krishnakant Patel) का पीछा करते हुए खंडवा तक गया। वहां से आरपीएफ में तैनात जबलपुर के न्यू शोभापुर कॉलोनी निवासी संदीप तिवारी पिता चंद्रिका प्रसाद तिवारी उम्र 34 साल की मदद ली। संदीप तिवारी (Sandip Tiwari) के साथ ट्रेन में सौरभ शर्मा पिता वीरेंद्र शर्मा उम्र 20 साल भी था। वह शीतला माई वार्ड गमापुर इलाके का रहने वाला है। सौरभ शर्मा (Saurabh Sharma) पेशे से बिल्डर भी है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में कई अन्य की तलाश अभी भी है।

यह भी पढ़ें: भोपाल के इस बिल्डर पर सिस्टम का ‘रियायती सैल्यूट’, परेशान हो रहे 100 से अधिक परिवार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: प्लॉट और मकान के लिए मांग रहे थे दो लाख रुपए
Don`t copy text!