MP PHQ News: भोपाल के बाद कटनी पुलिस को मिली वाहन चोरी मामले में बड़ी कामयाबी 

Share

MP PHQ News: चोरी के 28 वाहन बरामद कर अशोका गार्डन पुलिस को दी कटनी पुलिस ने चुनौती

MP PHQ News
मध्यप्रदेश पुलिस मुख्यालय भवन- फ़ाइल फोटो

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में त्यौहारी सीजन में वाहन चोरी का सिलसिला जारी है। इसके बावजूद कुछ दिन पहले अशोका गार्डन थाना पुलिस ने 37 वाहन एक साथ बरामद कर अपनी उपस्थित प्रदेश स्तर पर दर्ज कराई थी। इस सफलता के बाद अब कटनी पुलिस (MP PHQ News) को बड़ी कामयाबी हाथ लग गई है। कटनी पुलिस ने भी चोरी के 28 वाहन बरामद किए हैं।

यह कहानी कुछ मेल नहीं खाई

पुलिस मुख्यालय से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार एसपी कटनी सुनील कुमार जैन (SP Sunil Kumar Jain) के निर्देशन में एएसपी मनोज केड़िया की निगरानी में एक टीम बनाई गई थी। जिसका नेतृत्व सीएसपी विजय प्रताप सिंह (CSP Vijay Pratap Singh) कर रहे थे। थाना प्रभारी कुठला के कार्यवाहक निरीक्षक रोहित डोंगरे और सायबर सेल टीम ने मिलकर इस गिरोह को बेनकाब किया। इस मामले में सुनील साकेत (Sunil Saket) पिता गणेश साकेत उम्र 33 साल निवासी बहियारी थाना हनुमना जिला रीवा को पकड़ा। पूछताछ में उसने दीपू कुशवाहा और सोनू साहू के नाम का खुलासा किया। दीपू उर्फ दीपक कुशवाहा ([email protected] Kushwaha) पिता लल्लू लाल कुशवाहा उम्र 28 वर्ष निवासी कैलवारा कटनी और सोनू साहू (Sonu Sahu) पिता कालूराम साहू उम्र 19 वर्ष निवासी प्रजापति मोहल्ला कटनी को हिरासत में लिया। कुठला पुलिस ने रीवा, सीधी समेत कटनी के कई स्थानों में दबिश देते हुए 28 वाहन जब्त किए। आरोपिगण मोटर सायकल की पहचान बदलने के लिए नम्बर प्लेट बदल देते थे तथा इंजन व चेचिस नम्बर मिटा देते थे।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP PHQ News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   MP Corrupt Officer: लोकायुक्त पुलिस आ रही है पता चला तो दफ्तर से भागा एसडीएम
Don`t copy text!