लोन वितरण पर लगी रोक, कमलनाथ बोले- युवा विरोधी शिवराज सरकार

Share

‘रोजगार के अभाव में प्रदेश के सबसे ज्यादा युवा कर रहे आत्महत्या’

Loan Disbursement
कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री

भोपाल। मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने अपनी ही योजनाओं के तहत होने वाले लोन वितरण (Loan Disbursement) पर रोक लगा दी है। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग की तरफ से जारी एक आदेश में इसका खुलासा हुआ है। राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री युवा उदयमी,  स्वरोजगार, कृषक उद्यमी के तहत आवेदन करने वाले युवाओं को लोन वितरण किए जाने पर रोक लगा दी है। सरकार ने इस संबंध में बैंक मैनेजरों को पत्र जारी किया है।

सचिव मध्यप्रदेश शासन की तरफ से जारी हुए पत्र में लिखा गया है क मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में 14 दिसंबर 2020 को हुई विभागीय बैठक में स्वरोजगार योजनाओं के ऐसे प्रकरण जो आज दिनांक तक संवितरित नहीं हुए है। ऐसे प्रकरणों में बैंकों को निर्देशित किया जाए कि आगामी आदेश तक उन्हें संवितरित नहीं किया जाए।

कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने सरकार को घेरा

‘शिवराज सरकार किसान विरोधी होने के साथ-साथ युवा व रोज़गार विरोधी भी। अपने 15 वर्ष के शासनकाल में भी युवाओं को रोजगार देने को लेकर कुछ नहीं किया और वर्तमान सरकार में भी रोज़गार वाली योजनाओं को कर रही बंद ? देश में सर्वाधिक युवा मप्र में रोजगार के अभाव में आत्महत्या करते हैं और अब तीन स्वरोजगार योजनाएं बंद करने का निर्णय ? ‘

‘कोरोना महामारी में पहले ही कई लोगों का रोजगार छिन चुका है, आर्थिक स्थिति भयावह हो चुकी है, ऐसे में इन योजनाओं के बंद होने से बेरोजगारी और बढ़ेगी, युवा हताश होगा। मुख्यमंत्री कृषि उद्यमी योजना ,मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना ,मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत बड़ी संख्या में युवाओं को ऋण मिलने के साथ- साथ अनुदान व सब्सिडी भी मिलती थी।‘

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: शौचालय बनाने की बात पर देवर—भाभी भिड़े

‘बड़ी शर्मनाक बात है कि जो प्रकरण स्वीकृत हो चुके हैं , उनके भी आवेदन रोकने का निर्णय लिया गया है ?’

यह भी पढ़ेंः नशे के लिए सगी बहन को देह व्यापार में धकेला

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!