MP Latest Scam News: सरकारी फाइल में एक व्यक्ति की चार साल में दो बार मौत 

Share

MP Latest Scam News: असली मौत के बाद उजागर हुई नकली मौत के सनसनीखेज घोटाले की कलई, ब्यूरोक्रेसी ने ठीकरा ठेके पर रखे गए कर्मचारी पर फोड़ा

MP Latest Scam News
File Image

भोपाल। एमपी में भ्रष्टाचार को रोकने के लिए तमाम एजेंसियां बनाई गई। इसके बावजूद तरीकों में कोई कमी नहीं आई। सिस्टम में जुड़े ऐसे लोग जीवित व्यक्ति को मृत बताकर भी पैसा कमाने में पीछे नहीं रहते। ऐसा ही एक मामला मध्यप्रदेश (MP Latest Scam News) में सामने आया है। यह हैरान कर देने वाली घटना जनपद पंचायत विजयपुर की है। सरकार ने इस मामले में एक संविदा कर्मचारी को जिम्मेदार मानते हुए उसकी जांच बैठा दी है। बहरहाल, यह घटना मध्यप्रदेश की विधानसभा में भी पहुंची। जिसमें पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसौदिया ने जांच के बाद कार्रवाई करने का आश्वासन विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम को दिया।

मंत्री ने भी माना मौत संदेहास्पद है

सवाल पूछने वाले विधायक बैजनाथ कुशवाह (MLA Baijnath Kushwah) थे। उन्होंने मंत्री से पूछा था कि सरकार कोई स्कीम चलाती है जिसमें असामायिक निधन होने पर राहत राशि दी जाती है। जिसके जवाब में मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना में ऐसा किया जाता है। इसमें पंजीकृत श्रमिकों के सामान्य निधन होने पर उसके आश्रितों को दो लाख और दुर्घटना से निधन होने पर चार लाख रूपए का भुगतान किया जाता है। विधायक ने पूछा कि मृत्यु स्थान डोंगरपुर बताकर 14 दिसंबर, 2016 को एक श्रमिक के निधन के बाद मुआवजा लिया गया। फिर उसी श्रमिक की मौत 10 अगस्त, 2020 को उसी जगह से दर्शाकर राशि निकाली गई। जिसके जवाब में मंत्री ने कहा कि श्रमिक की मौत 10 अगस्त, 2020 को ग्राम पंचायत दोर्द में हुई है। इस मामले को संदेहास्पद मानते हुए मंत्री ने जवाब दिया कि प्रभारी सचिव रामनाथ जाटव (Ramnath Jatav) को पंचायत कार्यालय अटैच कर दिया गया है। इस घटनाक्रम की जांच के लिए दो सदस्यीय सुरेश चंद्र जाटव (Suresh Chandra Jatav) और नरेंद्र त्यागी (Narendra Tyagi) की अगुवाई में कमेटी बनाई गई। कमेटी की रिपोर्ट मिलने के बाद रामनाथ जाटव से राशि की रिकवरी के साथ—साथ उनके संविदा कार्यकाल को समाप्त किया जाएगा।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Latest Scam News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: जेब में और फ्रिज पर रखे सुसाइड नोट में छुपा था यह राज
Don`t copy text!