Bhopal Cheating News: बुलडोजर मंत्री के खास सिपहसलारों में शामिल मैकेनिकल इंजीनियर धोखे के शिकार

Share

Bhopal Cheating News: पिता डीजे तो भाई हाईकोर्ट में जज रहे, ऐसे संभ्रात परिवार को शातिर जालसाज ने दिया चौदह लाख रुपए का धोखा

Bhopal Cheating News
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Bhopal Cheating News) कोलार थाने से मिल रही है। यहां तत्कालीन मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के खास चहेते अफसरों में शुुमार रहे सेवानिवृत्त मैकेनिकल इंजीनियर धोखाधड़ी का शिकार होने पर मुकदमा दर्ज कराने पहुंचे। आरोपी बेहद शातिर है और उसके खिलाफ पहले से ही कई मुकदमे दर्ज है। इस मामले में एक महिला भी आरोपी है। वह भी शातिर है और उस पर भी पहले से मुकदमे चल रहे हैं।

मैरिज गार्डन में बुलाकर दिया झांसा

कोलार थाना पुलिस केे अनुसार 3 सितंबर की रात लगभग 12 बजे धारा 420/34 जालसाजी और एक से अधिक आरोपी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। शिकायत राजकुमार अग्रवाल पिता स्वर्गीय रामेश्वर अग्रवाल उम्र लगभग 77 साल ने दर्ज कराई है। वे शाहपुरा स्थित बी—सेक्टर में रहते हैं। राजकुमार अग्रवाल (Rajkumar Agrawal) सिचाई विभाग के सेवानिवृत्त मैकेनिकल इंजीनियर है। इस मामले में आरोपी सुनील टिबड़ेवाल और ज्योति गोयल (Jyoti Goyal) है। दोनों आरोपियों ने कोलार स्थित अग्रवाल नगर में दो प्लॉट देने के नाम पर जालसाजी की है। जिसके एवज में राजकुमार अग्रवाल ने 14 लाख रुपए का भुगतान भी किया था। यह सारा भुगतान उन्होंने चैक के जरिए किया था। आरोपी सुनील टिबड़ेवाल (Sunil Tibrewal) कथित अग्रवाल बिल्डर नाम से फर्म चलाता था। जिसका दफ्तर सर्वधर्म कॉलोनी में उसने खोला था।

यह भी पढ़ें: हुस्न का पहले जलवा, फिर आपको जंजाल में कैसे फांस देेती है सोशल मीडिया की यह गैंगस्टर

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cyber Crime: आईफोन की लालच में गंवा दी रकम

निमंत्रण भेजकर दिया झांसा

Bhopal Cheating News
कोलार थाना, जिला भोपाल—फाइल फोटो

राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि उनके पास 2010—2011 में प्रॉपर्टी एक्सपो (Fake Property Expo) का कार्ड आया था। यह कार्यक्रम कोलार के मैरिज गार्डन में रखा गया था। जहां शातिर आरोपी सुनील​ टिबड़ेवाल ने उनके अलावा कई अन्य सीनियर सिटीजन को मंच में बैठाकर सम्मान किया था। यहां उसने अग्रवाल नगर बनाने की योजना बताई थी। इसलिए वे उस योजना के आकर्षण में आ गए। फर्म को ज्योति गोयल (Jyoti Goel) का होना बताया था। जिसमें सुनील टिबड़ेवाल पार्टनर बताता था। उन्होंने दो प्लॉट बुक किए थे। जिसके बदले में किस्त में चैक के जरिए 14 लाख रुपए का भुगतान किया। जब रजिस्ट्री की बारी आई तो वह आनाकानी करने लगा। इसी बीच सुनील टिबड़ेवाल और ज्योति गोयल के फर्जीवाड़े उन्हें पता चले। इस कारण थाने में जाकर उन्होंने मुकदमा दर्ज कराया।

यह भी पढ़िए: भोपाल के ‘विजय माल्या’ की कहानी, सिस्टम और सरकार उसके आगे नतमस्तक हैं, नहीं तो इतना सबकुछ होने पर भी वह नहीं बचता

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cheating News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!