Hospital Investment Cheating News: अस्पताल में पार्टनर बनाने के नाम पर 15 लाख रुपया ऐंठा

Share

Hospital Investment Cheating News: न्यू एप्पल अस्पताल के डायरेक्टरों में से एक के खिलाफ जालसाजी और गबन का मुकदमा दर्ज

Hospital Investment Cheating News
File Image

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज जहांगीराबाद इलाके की है। यहां न्यू एप्पल अस्पताल में एक व्यक्ति से 15 लाख रुपए निवेश कराए गए। उससे यह करार हुआ था कि वह अस्पताल में उन्हें 10 फीसदी का पार्टनर बनाया जाएगा। लेकिन, ऐसा करने की बजाय अस्पताल के डायरेक्टरों में से एक ने धोखा (Hospital Investment Cheating News) दिया। शिकायत आईजी भोपाल रेंज और एसपी भोपाल दक्षिण क्षेत्र से की ​गई थी।

पहले से थी पहचान

जहांगीराबाद थाना पुलिस के अनुसार इस मामले की शिकायत जून, 2021 में हुई थी। जिसकी जांच एसआई शुक्ला को सौंपी गई थी। आवेदन के आधार पर धारा 420/406 (जालसाजी और गबन) का केस दर्ज किया गया। इस मामले में आरोपी डॉक्टर कलीम अहमद हैं। शिकायत पन्ना स्थित श्रीराम कॉलोनी निवासी इदरीश खान पिता गुलशेर खान उम्र 55 साल ने दर्ज कराई है। उनका आरोप है कि डॉक्टर कलीम अहमद (Dr Kali, Ahmed) से पारिवारिक संबंध है। इस कारण उनके घर आना—जाना भी है। वे बुधवारा में स्थित चटाईपुरा इलाके में रहते हैं। उन्होंने बताया था कि जहांगीराबाद इलाके में न्यू एप्पल हास्पिटल एंड रिसर्च सेंटर खोला जा रहा है। उन्होंने इदरीश खान (Idrish Khan) से कहा था कि वे अस्पताल में उन्हें 10 फीसदी का पार्टनर बना देंगे। इसके एवज में 15 लाख रुपए देना होंगे।

नाम जोड़ना था लेकिन लटकाते रहे

Hospital Investment Cheating News
File Image

प्रस्ताव अच्छा लगने पर इदरीश खान ने यूको बैंक के दो चैक के जरिए दो किस्त में 15 लाख रुपए दिए थे। अस्पताल में डॉक्टर कलीम अहमद के अलावा चार अन्य पार्टनर हैं। शाहजहांनाबाद निवासी मोहम्मद आरिफ खान (Mohmmed Arif Khan), गुना निवासी कबीर अहमद (Kabir Ahmed), अयोध्या बायपास निवासी नवेद सईद (Naved Said), कुरवाई जिला विदिशा निवासी मिर्जा फहीम बेग (Mirza Fahim Beg) और शाहजहांनाबाद निवासी जितेन्द्र शर्मा (Jitendra Sharma) भी पार्टनर थे। लेन—देन की रकम की जानकारी इन चारों पार्टनरों को भी थी। दिसंबर, 2019 को बकायदा इस बात का एग्रीमेंट भी किया गया था। कंपनी में भागीदार बनने के लिए जनवरी, 2020 में राशि का भुगतान किया गया था। रकम लेने के बाद पार्टनरशिप में नाम जोड़ने का बाद में बोला गया था।

यह भी पढ़ें:   MP Police Gossip: गृहमंत्री के इलाके में ही इतने गहरे गड्ढे

चार को अभी क्लीनचिट नहीं

न्यू एप्पल हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर खुला ही नहीं। जब रकम मांगी गई तो उन्हें लटकाया जाने लगा। इदरीश खान ने पुलिस को बताया कि आरोपी डॉक्टर कलीम अहमद ने खाते से रकम जनवरी—फरवरी, 2020 को निकाल ली थी। पुलिस ने केवल एक आरोपी बनाने के सवाल पर कहा कि अभी इस मामले में अन्य पार्टनर मोहम्मद आरिफ खान, कबीर अहमद, नवेद सईद, मिर्जा फहीम बेग और जितेन्द्र शर्मा के भूमिका की पड़ताल की जा रही है। यदि वे भी इस फर्जीवाड़े में शामिल रहे तो उन्हें भी आरोपियों की सूची में डाला जाएगा।

यह भी पढ़ें: हुस्न का पहले जलवा, फिर आपको जंजाल में कैसे फांस देेती है सोशल मीडिया की यह गैंगस्टर

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Hospital Investment Cheating News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!