Bhopal Cop News: हवाला मामले में फंसे अफसर समेत चार कर्मचारी गुपचुप बहाल

Share

Bhopal Cop News: डीसीपी कार्यालय में तीन बार संपर्क किया नहीं हुई मुलाकात फोन पर प्रतिक्रिया चाही तो मुलाकात का समय बताकर काट दिया

Bhopal Cop News
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। हवाला कारोबारी को पकड़ने के बाद उसकी जांच में बरती गई लापरवाही के मामले में सस्पेंड चल रहे अफसर समेत चार पुलिस कर्मचारियों को गुपचुप तरीके से बहाल कर दिया गया ह। यह घटना भोपाल (Bhopal Cop News) शहर के अशोका गार्डन थाना क्षेत्र की थी। इस मामले में डीसीपी जोन—1 प्रियंका शुक्ला से प्रतिक्रिया के लिए संपर्क किया गया। वे कार्यालय में नहीं मिली तो उनसे फोन पर संपर्क किया गया। उन्होंने मुलाकात का समय बताकर आगे सवाल जानने के पहले फोन काट दिया।

यह है वह घटनाक्रम जिसको लेकर मचा था बवाल, क्या राजनीतिक दबाव

अशोका गार्डन (Ashoka Garden) थाना पुलिस ने मई के दूसरे सप्ताह में थाने के पीछे पंथ नगर (Panth Nagar) में रहने वाले कैलाश खत्री (Kailash Khatri) के घर दबिश दी गई थी। वहां से 31 लाख 58 हजार रुपए की नकदी बरामद की गई थी। यह कार्रवाई भोपाल में लोकसभा चुनाव (Laksabha Election) के मतदान के बाद की गई थी। इसी प्रकरण में अगली जांच के बाद डीसीपी जोन—1 प्रियंका शुक्ला (DCP Priyanka Shukla) 13 मई को मीडिया के सामने आई थी। उन्होंने बताया था कि घटना वाले दिन उसका भाई अजय खत्री (Ajay Khatri) 37 लाख रुपए से ज्यादा की रकम घटना स्थल से ले गया था। यह रकम लेकर वह पहले पंजाबी बाग (Punjabi Bag) में रहने वाली बहन के घर ले गया। वहां से वह बैरागढ़ में स्थित गुलाब मेघानी (Gulab Meghani) के घर लेकर पहुंचा था। पुलिस ने यह रकम जब्त करके अजय खत्री को भी आरोपी बनाया था। कैलाश खत्री मूलत: उत्तर प्रदेश का रहने वाला है। अशोका गार्डन में उसका भाई अजय खत्री रहता है। अजय खत्री बैंक में पुराने नोट बदलने का पहले काम करता था। जिसके दस्तावेज उसने दिए भी थे। इसी मामले में डीसीपी जोन—1 ने पहले दिन अशोका गार्डन थाना प्रभारी वंदना लकड़ा (TI Vandna Lakda) को सस्पेंड कर दिया था। उसके बाद डीसीपी ने एसआई शत्रुघ्न पटेल (SI Shatrughan Patel) , एएसआई कार्यवाहक मेघ खत्री (ASI Megh Khatri) , हवलदार महेंद्र सिंह (Con Mahendra Singh) और सलमान खान (Con Salman Khan) को लाइन हाजिर कर दिया था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि अब चारों अफसर और कर्मचारियों को दोषमुक्त कर दिया गया है। उनके खिलाफ विभागीय जांच में यह कार्रवाई की गई है। हालांकि थाना प्रभारी वंदना लकड़ा के सस्पेंड करने के मामले में अभी डीसीपी कोई निर्णय नहीं ले सकी है। उनका प्रकरण उच्च अधिकारियों को भेजा गया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cop News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Indore Murder News: एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर के चलते उतारा था मौत के घाट
Don`t copy text!