MP Anti Mafia: बदमाशों के ठिकाने ढहाने का काम शुरु

Share

MP Anti Mafia: भोपाल—इंदौर पुलिस की कार्रवाई, प्रशासन के अफसरों ने रिश्तेदारों को भी नहीं बख्शा

MP Anti Mafia
रईस रेडियो के रिश्तेदार का घर गिराते अमला

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) के आदेश पर कई शहरों में माफिया (MP Anti Mafia) के खिलाफ प्रशासन सक्रिय हो गया। सोमवार को प्रदेश के दो प्रमुख शहरों भोपाल—इंदौर में बदमाशों के कई ठिकानों को जमींदोज (MP Criminal Encroachment Destroyed) किया गया। यह वह ठिकाने थे जो अवैध थे। इस कार्रवाई के दौरान पुलिस, प्रशासन और निगम के अफसर भी मौके पर रहे। अतिक्रमण ढहाने के लिए डोजर और जेसीबी मशीन का भी इस्तेमाल किया गया।

रईस रेडियो का अतिक्रमण जमींदोज

भोपाल के कुख्यात बदमाश रईस रेडियो का अवैध अतिक्रमण कोहेफिजा पुलिस ने जमींदोज किया। रईस रेडियो का पूरा परिवार पुलिस की निगरानी सूची में रहा है। पत्नी सीमा रेडियो है जो निगरानीशुदा बदमाश है। बेटा यासिर मजिस्ट्रेट और मुन्ना है जो शातिर अपराधी है। रईस का एक मकान टीलाजमालपुरा इलाके में कांग्रेस नगर के नजदीक है। उसे कुछ महीने पहले ढ़हाया जा चुका है। खानूगांव में एक अन्य अतिक्रमण पहले हटाया जा चुका है। उस पर दोबारा कब्जा किया गया था जिसको सोमवार को जमींदोज किया गया। रईस रेडियो फिलहाल एक बेटे के साथ जेल के भीतर है। जबकि उसकी पत्नी और एक बेटा जमानत पर चल रहे हैं।

यह भी पढ़ें: दिल्ली का यह एसीपी जिसकी भोपाल पुलिस बिना एफआईआर इसलिए कर रही है तलाश

गुंडा विरोधी अभियान

MP Anti Mafia
कुख्यात बदमाश मनोहर वर्मा के भाई अरुण वर्मा का घर ढहाता दस्ता

भोपाल की तरह इंदौर में भी गुंडा विरोधी अभियान चलाया गया। यहां एलआईजी लिंक रोड पर छब्बू के अवैध निर्माण को तोड़ा गया। रावजी बाजार में अरुण वर्मा के अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई की गई। अरुण शहर के कुख्यात बदमाश मनोहर वर्मा का भाई है। वह सूदखोरी का कारोबार चलाता है। इससे पहले मंदसौर जिले में अतिक्रमण हटाते हुए बदमाश के खिलाफ कार्रवाई की गई थी। ग्वालियर शहर में भी पुलिस ने बदमाशों के अतिक्रमण जमींदोज किए थे।

यह भी पढ़ें:   Nepali Community Problem: लॉक डाउन में नेपाली नागरिकों के बुरे हालात

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!