Bhopal Crime: डीएसपी के भाई की कार ले भागे रिश्तेदार

Share

कार वापस मांगी तो बेटी को किया जाने लगा प्रताड़ित, आरोपी बाप—बेटे के खिलाफ एक साल चली लंबी जांच के बाद गबन का मुकदमा दर्ज

Bhopal Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) में एक डीएसपी के भाई की कार बाप—बेटे लेकर भाग गए। मामला एक साल पुराना है जिसकी जांच के बाद पुलिस ने गबन (Bhopal Peculation) का मुकदमा दर्ज किया है। यह मामला मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के अयोध्या नगर थाना क्षेत्र का है। आरोपी बाप—बेटे शिकायत करने वाले परिवार के रिश्तेदार भी है। जब उनको पता चला कि उनकी पुलिस में शिकायत हो गई है तो उनकी बेटी को प्रताड़ित करने लगे।

अयोध्या नगर थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि शिकायत सागर एवेन्यू निवासी 54 वर्षीय देवी शंकर शुक्ला (Devi Shankar Shukla) ने की थी। शुक्ला एलआईसी का काम करते हैं। उनके बड़े भाई रवि शुक्ला (Ravi Shukla) है जो महिला शाखा पीएचक्यू में डीएसपी है। रवि के रिश्ते में भतीजी है जिसकी शादी रायबरेली में प्रशांत त्रिपाठी (Prashant Tripathi) के साथ हुई थी। प्रशांत जनवरी, 2019 में भोपाल आया था। वह देवी शंकर शुक्ला के घर पहुंचा। उसने भोपाल घुमने के लिए डिजायर कार ली। जिसको लेकर वह रायबरेली (Raibareli) चला गया। उसके बाद उसने कार लौटाने का नाम नहीं लिया। यह पता चलने पर रवि शुक्ला भी उसको समझाने पहुंचे। लेकिन, परिवार उनकी भतीजी को प्रताड़ित करने लगा। यह पता चलने पर परिवार ने अयोध्या नगर थाने में शिकायत कर दी थी। जिसकी जांच पुलिस लंबे अरसे से कर रही थी। पुलिस ने बताया कि प्रशांत रायबरेली में वकील है। पुलिस ने प्रशांत त्रिपाठी और उसके पिता उमापति त्रिपाठी (Umapati Tripathi) के खिलाफ गबन का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
यह भी पढ़ें: भोपाल के एक नामी स्कूल के संचालक ने घोटाला करके करोड़ों रुपए की संपत्ति बनाई

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: सूदखोर किन्नर ने पेट में छुरी मारी

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!