Bhopal Cyber Crime: युवती को जॉब तो छात्रा को एप डाउनलोड के नाम पर ठग ली रकम

Share

Bhopal Cyber Crime: पिपलानी थाने में सायबर फ्रॉड के तीन पुराने मामलों में एफआईआर हुई दर्ज

Bhopal Cyber Crime
File Image Courtesy

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Bhopal Cyber Crime) पिपलानी थाने से मिल रही है। यहां सायबर क्राइम से जुड़े तीन मामलों की एफआईआर दर्ज की गई है। एक मामले में आईसीआईसीआई बैंक का अफसर बनकर नौकरी दिलाने के नाम पर जालसाजी की गई। वहीं दूसरे मामले में क्रेडिट कार्ड का वैरीफिकेशन कराने के नाम पर फर्जीवाड़ा हुआ। जबकि तीसरे मामले में एक छात्रा को एप डाउनलोड करते—करते उसके पिता के खाते से पैसे निकाल लिए गए। तीनों घटनाओं में करीब 69 हजार रुपए की जालसाजी की गई है।

आप भी रहे सावधान

पिपलानी थाने में तैनात तीनों मामलों की जांच कर रहे अधिकारी एसआई कुलदीप खरे (SI Kuldeep Khare) के अनुसार हजरत निजामुद्दीन कॉलोनी निवासी 22 वर्षीय समरीन खान पिता मोहम्मद बरकत ने जॉब के लिए रिज्यूम डाला था। उसके पास आईसीआईसीआई बैंक का अफसर बनकर एक व्यक्ति ने उससे संपर्क किया था। आरोपी ने कभी पंजीयन तो कभी प्रोसेसिंग फीस के नाम पर उससे 18 हजार 300 रुपए ले लिए। इसी तरह दूसरी शिकायत हजरत निजामुद्दीन कॉलोनी में रहने वाले अफसर खान के साथ धोखाधड़ी की घटना हुई। उसके पास नया आरबीएल कंपनी का क्रेडिट कार्ड आया था। कुछ दिन बाद ही वैरीफिकेशन के लिए फोन आया था। उससे फोन करके ओटीपी पूछा था।

यह भी पढ़ें: भोपाल का माल्या, जिसने रकम तो नहीं लेकिन कई कोरोना संक्रमितों के जीवन को दांव पर लगा दिया था

एप डाउनलोड करने के नाम पर जालसाजी

Bhopal Cyber Crime
सांकेतिक फोटो

अफसर खान से ओटीपी पूछते ही आरोपियों ने 15150 रुपए निकाल लिए। इसी तरह आनंद नगर स्थित न्यू शिव नगर निवासी राजकुमार गुप्ता के साथ भी धोखाधड़ी हुई है। उन्होंने पुलिस को बताया कि उसकी बच्ची प्रियंका कक्षा दसवीं में पढ़ाई कर रही है। उसने आन लाइन पढ़ाई के लिए एप डाउनलोड करने के लिए कहा गया। ऐसा करते हुए उसके खाते से 35387 रुपए निकाल लिए गए। तीनों घटनाओं पिछले साल की है। जिसकी शिकायतें भोपाल सायबर क्राइम में की गई थी। वहां जांच में जब कोई कामयाबी नहीं मिली तो डायरी पिपलानी थाने को आगे की जांच के लिए भेज दी गई।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cop Transfer: क्राइम ब्रांच को फोकस करने तबादले
Don`t copy text!