Bhopal Fraud News : जहर बेचकर लखपति हो गए एजेंट, मालिक को किया कंगाल

Share

Bhopal Fraud News : राज खुला तो थाने पहुंचे मालिक ने दर्ज कराया जालसाजी का मुकदमा

Bhopal Fraud News
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। खरपतवार मारने के काम आने वाले जहरीले पदार्थ बनाने वाली एक कंपनी को उसके ही दो एजेंटों ने पांच लाख रुपए की चपत लगा दी। यह घटना भोपाल (Bhopal Fraud News) सिटी के शाहपुरा थाना खेत्र की है। इस मामले के आरोपी अभी पुलिस को नहीं मिले हैं। पुलिस ने कंपनी के संचालक की शिकायत पर जालसाजी का प्रकरण दर्ज कर लिया है।

ऐसे कर रहे थे फर्जीवाड़ा

शाहपुरा थाना पुलिस के अनुसार 12 जुलाई की रात लगभग साढ़े नौ बजे 393/22 धारा 420/406/409 (जालसाजी, गबन और कंपनी के कर्मचारियों का गबन का मामला) दर्ज किया गया है। घटना की शुरुआत 29 मई से हुई थी। शिकायत गुलमोहर निवासी आकाश दुबे (Akash Dubey) ने दर्ज कराई है। उनकी ग्रो सेफ केमिकल्स प्रायवेट लिमिटेड (Grow Safe Chemical Pvt Ltd) नाम से कंपनी है। इस कंपनी का दफ्तर गुलमोहर कॉलोनी में है। लेकिन, उसकी फैक्ट्री मंडीदीप में हैं। यह कंपनी किसानों के लिए पेस्ट्रीसाइड समेत कई अन्य कीटनाशक दवा का निर्माण करती है। इस कंपनी के माल को बेचने के लिए उन्होंने रघुनंदन चंद्रवंशी और महेश झा को जिम्मेदारी दी थी। दोनों आरोपियों ने कई महीनों तक कंपनी के उत्पाद मार्केट में बेचे। लेकिन, उसकी रकम आजकल में जमा कराने का झांसा देते रहे। ऐसा करते हुए दोनों एजेंट करीब पांच लाख रुपए का माल बेच चुके थे। जब मालिक आकाश दुबे ने पता कराया तो मालूम हुआ कि आरोपी पैसा भी रिकवर कर चुके थे। पुलिस अभी तक दोनों एजेंटों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है। मामले की जांच एसआई शुभम पांडे कर रहे हैं।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Fraud News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: दो दिन पहले हुई सड़क दुर्घटना मौत मामले में प्रकरण दर्ज 
Don`t copy text!