Bhopal Suicide Case: एक्सिस बैंक का कर्मचारी फांसी पर झूला

Share

Bhopal Suicide Case: शराब पीने की लग गई थी लत

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। एक्सिस बैंक के कर्मचारी ने फांसी पर लटककर आत्महत्या (Bhopal Suicide Case) कर ली है। शव के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है। इधर, ट्रक ड्राइवर की हमीदिया अस्पताल में मौत हो गई है। वहीं रोड एक्सिडेंट में जख्मी एक व्यक्ति की मौत हो गई है। पुलिस ने तीनों मामले में मर्ग कायम कर लिया है।

तीन साल पहले हुई थी शादी

घटना बागसेवनिया थाना क्षेत्र की है। पीयूष शाक्या (Piyush Shakya) पिता मदनलाल शाक्या उम्र 32 साल निवासी साकेत नगर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। पीयूष के भाई आनंद शाक्या (Anand Shakya) ने पुलिस को घटना की सूचना दी थी। आनंद ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार रात 9:00 बजे पीयूष अपने कमरे में सोने गया था। सुबह उसका दरवाजा खटखटाया तो उसने दरवाजा नहीं खोला। खिड़की से झांककर देखा तो उसकी लाश दुपट्टे से लटकी हुई थी। पीयूष एक्सिस बैंक में काम करता था। तीन साल पहले उसकी शादी हुई थी। उसकी पत्नी 4 दिसंबर को अपने मायके आगरा गई थी। घटना के वक्त घर में पीयूष के मां-बाप और छोटा भाई थे। पुलिस ने बताया कि पीयूष को शराब पीने की लत थी।

रास्ते में हुई तबीयत खराब

घटना गांधी नगर थाना क्षेत्र की है। बब्लू (Babloo) पिता मोहम्मद सईद उम्र 35 साल निवासी बीडीए क्वार्टर की मौत हो गई है। बब्लू ट्रक ड्राईवर है। पुलिस ने बताया कि शनिवार को वह आंध्र प्रदेश से ट्रक लेकर आ रहा था। तभी इंदौर के पास हाईवे में उसकी तबीयत खराब होने लगी। ट्रक के कंडक्टर ने फोन करके इसकी सूचना बब्लू के घर वालों को दी। घरवालों ने उसे भोपाल लाने को कहा। बब्लू को हमीदिया अस्पताल भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। अस्पताल से पुलिस को घटना की सूचना दी गई। पुलिस का कहना है कि मौत के कारण का खुलासा पीएम रिपोर्ट आने के बाद हो पाएगा।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Fraud Case: सरपंच ने 22 लोगों को "मारकर" जमा किए 50 लाख रुपए

सड़क दुर्घटना में मौत

घटना बैरसिया थाना क्षेत्र की है। रविंद्र अहिरवार (Ravindra Ahirwar) पिता लालाराम अहिरवार उम्र 17 साल निवासी जिला अशोक नगर की मौत हो गई है। रविंद्र शनिवार शाम 5:00 बजे राजपुर मार्ग में हुए सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गए थे। उन्हें अशोक नगर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां से डॉक्टरों ने उन्हें भोपाल रेफर कर दिया था। उन्हें हमीदिया अस्पताल लाया गया। जहां 7:20 बजे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। बैरसिया थाना पुलिस ने जीरो पर मर्ग कायम कर डायरी कचनार थाने को भेज दी है।

यह भी पढ़ें – दिल्ली के इस एसीपी की बिना एफआईआर भोपाल पुलिस कर रही तलाश, जानिए क्यों

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!