Bhopal Cop News : छोटा कच्छा—बड़ी मुसीबत, दर्जी की करतूत से पुलिस परेशान

Share

Bhopal Cop News : सोशल मीडिया पर उठी मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग!

Bhopal Cop News
सांकेतिक चित्र

भोपाल। पुलिस हमेशा सुर्खियों में रहती है। कभी काम तो कभी कारनामों के कारण। लेकिन, इस बार पुलिस फिर (Bhopal Cop News) चर्चा में हैं। चर्चा भी ऐसी कि आप उसे सुनने के बाद अपनी हंसी नहीं रोक सकते। मामला मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के हबीबगंज थाना क्षेत्र का है। यह थाना काफी वीआईपी भी माना जाता है। यहां मध्य प्रदेश (MP Ajab Gajab Kisse) की सरकार और सिस्टम चलाने वाले सारे बड़े से लेकर छोटे नेता, मंत्री, विधायक और सांसद भी रहते हैं। लेकिन, इन सभी लोगों से परे एक सामान्य आदमी ने थाने में आवेदन दिया था। इस आवेदन पर उसको न्याय तो नहीं मिला। बल्कि उसका आवेदन मजे लेने के लिए सोशल मीडिया (Bhopal Social Media Viral Application) में पुलिस ​स्टाफ ने वायरल कर दिया।

भावनाएं आहत करना लक्ष्य नहीं

वैसे मुद्दा सामान्य व्यक्ति से जुड़ा है। कोरोना काल में हर व्यक्ति कई चीजों पर कटौती कर रहा है। लेकिन, एक व्यक्ति की चीज पर ऐसी कटौती हुई कि वह आहत हो गया। वह नाराज था कि ऐसा जान बूझकर किया गया। यहां उस व्यक्ति की पहचान हम उजागर नहीं कर रहे हैं। वह व्यक्ति झुग्गी बस्ती में रहता है। उसका आवेदन गुरुवार को थाने पहुंचा था। लेकिन, शुक्रवार को वह आवेदन भोपाल शहर के हर व्हाट्सअप ग्रुप पर मौजूद था। हालांकि जिस व्यक्ति ने इस आवेदन वायरल किया था। उसने मोबाइल नंबर छुपा लिया था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: चोरी गई संपत्ति में अजीब है पुलिस का फॉर्मूला

अब वह सैलिब्रिटी बना

आवेदन में उसने लिखा था कि पांच नंबर बस स्टाप के पास एक टेलर की दुकान है। उसकी दुकान पर पिछले दिनों मैं दो मीटर का कपड़ा लेकर गया था। इस कपड़े से उसने कच्छा सिलवाने के लिए कहा था। टेलर ने कच्छा छोटा सील दिया। मैंने उसको बड़ा करने की गुजारिश की तो वह ऐसा नहीं कर रहा है। यह आवेदन (Bhopal Underwear Application) उसने बकायदा टाइप कराकर पुलिस थाने में दिया था। भगवान का शुक्र यह है कि पुलिस ने उसका आवेदन स्वीकार लिया।

कपड़े की कीमत तुम क्या…

यह आवेदन पुलिस के लिए शुक्रवार को परेशानी वाला बन (Bhopal Cop Application Troll Case) गया। दिनभर सोशल मीडिया पर पुलिस कार्रवाई के शब्दों का इस्तेमाल करके अपरोक्ष रुप से कमेंट किया जाने लगा। एक व्यक्ति ने लिखा मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन होना चाहिए। वहीं एक व्यक्ति ने लिखा कि दो मीटर कपड़े की कीमत तुम क्या जानो टेलर बाबू। ऐसे ही कई कमेंट सोशल मीडिया पर दिनभर होते रहे। इसके अलावा कमेंट के साथ वह लैटर भी सोशल मीडिया में शेयर होता रहा।

यह भी पढ़ें : लठ बजाने वाली पुलिस अब अपने गाल बजाने को हुई मजबूर

हंसते हुए जवाब देते रहे

पुलिस अफसरों के सामने वह आवेदन पहुंचा तो निर्णय नहीं ले सके। थाना प्रभारी राकेश श्रीवास्तव ने बताया कि हमने आवेदन पर कार्रवाई करते हुए फरियादी को जिला अदालत में जाने की सलाह दी है। वह प्रकरण पुलिस के हस्तक्षेप योग्य नहीं था। वहीं खबर है कि थाना प्रभारी से शहर के आला अफसरों ने भी जानकारी मांगी थी। दरअसल, सायबर सेल के अफसरों ने बता दिया था कि यह आवेदन बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। इसके दूसरे राज्यों में भी पहुंचने की संभावना है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Suicide News: एविएशन कंपनी के संचालक फारुख सरकारी की मौत

यह भी पढ़ें : प्यारे जब फरार था तब हुंकार रही थी पुलिस शिकंजे में आया तो पूछताछ भी बता नहीं पाई 

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!