पिता के सामने बह गईं तीन बेटियां, दो भतीजियों को निकाला, विधायक कुणाल चौधरी पहुंचे

Share

बेटियों को नहीं निकाल सका शख्स, दो शव बरामद

Shehore Parvati River
मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी

सीहोर। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से सटे सीहोर (Sehore) जिले में सोमवार दोपहर एक पिता के सामने उनकी तीन बेटियां और दो भतीजी पार्वती नदी (Parvati River) मे बह गईं। पिता ने नदी में कूदकर बेटियों और भतीजियों को बचाने की कोशिश की। उसने अपने छोटे भाई की दोनों बेटियों को बाहर निकल लिया। लेकिन, उसमें से एक की जान नहीं बच पाई। चार घंटे के बाद रेस्क्यू टीम ने दो लड़कियों के शव बरामद कर लिए गए है। एक की तलाश जारी है। सूचना मिलते ही भोपाल से बचाव दल को भेजा गया है। बहाव और नदी में पानी इतना ज्यादा है कि बहने वाली लड़कियों को ढ़ूढ़ने में बचाव दल को बहुत मुश्किल हो रही है। मरने वाली एक लड़की की आयु 17 साल है। और नदी में बहने वाली लड़कियों की आयु 10 से 17 वर्ष के बीच है।

कैसे हुआ हादसा

बताया जाता है कि सीहोर के मंडी थाना क्षेत्र में मूंडला गांव (Mundla Gaon) है। यहां रेलवे पुल के नीचे से पार्वती नदी बहती है। दोपहर करीब 1 बजे गांव में रहने वाले मुबीन खां अपनी तीन बेटियों सानिया, कहकशां और मनसबा और उनके भाई अंसार मियां की 17 साल की बेटी आबसार और 16 साल की मुनिया के साथ नहाने गए थे। रेलवे पुल के नीचे वे बच्चियों के साथ नहा रहे थे।

तेज बहाव में बह गईं बेटियां

रेस्क्यू ऑपरेशन की तस्वीर

मिली जानकारी के आनुसार तेज बहाव में लड़कियां बहने लगीं। मुबीन खां ने छलांग लगाते हुए दो बच्चियों को किसी तरह पानी के बाहर निकाला। लेकिन, तीन लड़कियां पानी के तेज बहाव में बह गईं। मुनिया की जान तो बच गई लेकिन आबसार की जान नहीं बच सकी। मुबीन ने दोबारा पानी में छलांग लगाई लेकिन उनकी बेटियों का कुछ पता नहीं चला। सूचना मिलते ही भोपाल होमगार्ड की टीम राहत और बचाव कार्य में जुट गई थी। जिसके बाद दो लड़कियों के शव बरामद किए गए है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Cyber Crime: पीएनबी से बैंक अधिकारी बोल रहा हूं, खाते से रकम निकल गई

विधायक कुणाल चौधरी पहुंचे

हादसे वाली जगह विधायक कुणाल चौधरी भी पहुंचे। उन्होंने पीड़ित परिवार से मुलाकात भी की। विधायक ने कहा घटना हृदय विदारक है। तीन बेटियों के असामयिक निधन से मुझे आघात पहुंचा है। परिवार को ईश्वर दुख सहने की शक्ति प्रदान करे। मैं शोकाकुल परिवार के साथ हूँ जब जैसी आवश्यकता हो मैं हरसंभव मदद करूँगा।

यह भी पढ़ेंः पांच लोगों की आत्महत्या के मामले में पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!