Chhattisgarh Gang Rape: दलित नाबालिग सेे तीन युवकों ने किया गैंग रेप

Share

एक आरोपी गिरफ्तार दो की तलाश जारी, पिकनिक के बहाने ले गए थे युवती को

Chattisgarh Gang Rape
सांकेतिक चित्र

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के रायगढ़ (Raigarh)  जिले में दलित नाबालिग (Dalit Minor) से गैंगरेप (Gang Rape) का मामला सामने आया है। आरोपी नाबालिग को पिकनिक (Picnic) के बहाने ले गए थे। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को दबोच लिया है। दो अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।
जानकारी के अनुसार दलित नाबालिग की उम्र 14 साल है। उसको आरोपी लारीपानी बांध (Chhattisgarh Rape Case) और बीरसिंघा (Raigarh Rape Case) गांव ले गए थे। पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि आरोपियों ने गैंग रेप (Chhattisgarh Gang Rape) की यह घटना  रविवार को अंजाम दी थी। आरोपियों में शामिल एक व्यक्ति स्कूल वैन  चलाता है। छात्रा का कहना है कि शनिवार के दिन वह स्कूल नहीं गई थी। इसी वजह से उसे पिकनिक पर ले जाने की कोई जानकारी नहीं थी। घटना वाले दिन अचानक स्कूल वैन आ गई। परिजनों ने स्कूल वैन संचालक संतोष गुप्ता (Santosh Gutpta) 42 साल से कारण जाना तो उसने बताया कि सभी बच्चों को पिकनिक पर ले जा रहे हैं। इसलिए परिजनों ने मुझे उसके साथ जाने दिया था। पीड़िता ने बताया कि घर से कुछ दूरी पर आरोपी संतोष ने अपने दो साथी संजय पैकरा (Sanjay pekra) 34 साल और पुष्पम यादव (Pushpam Yadav) 38 साल को भी वैन में बैठा लिया था।

दोनों आरोपियों को बैठाने के बाद जब स्कूल के वैन आगे आ गई तो छात्रा ने वैन चालक संतोष से पूछा की आप कहा जा रहे हो। इसके बाद उन्होंने वैन रोककर मुंह पर कपड़ा बांध दिया। उसके बाद तीनों आरोपी मुझे जिले के लारीपानी बांध (Laripani Dam Gang Rape) और बीरसिंघा (Birsingha Gang Rape) गांव ले गए। आरोपी संतोष ने मेरे साथ सबसे पहले बलात्कार ( Rape Case) किया था। उसके बाद दोनों आरोपियों ने बारी—बारी से गैंग रेप (Raigarh Rape Case) किया था। गैंग रेप (Chhattisgarh Rape Case) की वारदात (Crime Against Child) को अंजाम देने के बाद आरोपी संतोष ने मुझे धमकी दी थी कि अगर किसी को इस घटना (Gang Rape) की जानकारी दी तो वह मुझे जान से मार डालेगा। वारदात (Mainer Gang Rape) के दूसरे दिन सुबह 5 बजे पीड़ित को घर छोड़कर चले गए थे। पीड़ित ने अपने परिजनों को घटना की जानकारी सोमवार को दी। पुलिस ने मंगलवार को तीनों आरोपियों में से संजय पैकरा को गिरफ्तार कर लिया है। स्कूल वैन का चालक संतोष गुप्ता और पुष्पम यादव अभी भी फरार हैं।

यह भी पढ़ें:   Durg Crime : "भूत" ने बिगाड़ दी मासूम की जिंदगी, दो दिन की नौटंकी का पर्दाफाश
Don`t copy text!