MIG-21 Crash: दहेज प्रथा के खिलाफ मिसाल पेश करने वाले पायलट अभिनव चौधरी शहीद

Share

MIG-21 Crash: यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत कई नेताओं ने जताया शोक

MIG-21 Crash
शहीद पायलट अभिनव चौधरी (बाएं) पिता सतेंद्र चौधरी के साथ— फाइल फोटो साभार

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर के चर्चित पायलट अभिनव चौधरी शहीद हो गए। वे मिग—21 विमान (MIG-21 Crash) से भारत—पाक सीमा पर चौकसी के लिए उड़ान भरने निकले थे। विमान राजस्थान से पंजाब जा रहा था। तभी वह हादसे का शिकार हो गया। घटना के संबंध वायुसेना जांच कर रही है। इधर, निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत कई अन्य नेताओं ने शोक जताया है। पायलट चौधरी अपनी शादी के वक्त भी सुर्खियों में आए थे। उन्होंने दहेज प्रथा का विरोध करने के लिए एक रुपया लिया था।

डेढ़ साल पहले हुई थी शादी

मिग—21 विमान गुरुवार—शुक्रवार की दरमियानी रात पंजाब के मोगा इलाके में क्रेश हुआ है। उसको पठानकोट एयरबेस में तैनात अभिनव चौधरी (Pilot Abhinav Choudhary) उड़ा रहे थे। चौधरी का पुश्तैनी मकान बागपत में हैं। पिता सतेंद्र चौधरी किसान हैं। उनकी शादी को अभी डेढ़ साल ही हुआ है। पारिवारिक मित्रों के अनुसार शादी 25 दिसंबर, 2019 को हुई थी। दुर्घटना की पुष्टि करते हुए एसपी मुख्यालय गुरदीप सिंह ने बताया कि मोगा से करीब 25 किलोमीटर दूर गांव में हुआ। जानकारी के अनुसार मिग—21 विमान ने राजस्थान के सूरतगढ़ से उड़ान भरी थी। रात 12 से 1 बजे के बीच विमान का हादसा हुआ।

यह भी पढ़ें: भोपाल का माल्या, जिसने रकम तो नहीं लेकिन कई कोरोना संक्रमितों के जीवन को दांव पर लगा दिया था

पुणे में ली थी ट्रेनिंग

अभिनव चौधरी ने देहरादून से कक्षा बारहवीं की परीक्षा पास की थी। जिसके बाद उनका चयन एनडीए में हुआ था। पुणे में विमान उड़ाने की ट्रेनिंग दिवंगत चौधरी ने ली थी। मां सत्य चौधरी गृहिणी है और उसकी बहन मुद्रिका चौधरी भी है। पत्नी सोनिका उज्जवला का घटना की जानकारी मिलने के बाद हाल बुरा है। शहीद होने की खबर मिलने के बाद अभिनव चौधरी के बैचमेंट ने भी उन्हें याद करते हुए सैल्यूट किया। निधन के समाचार से देशभर में लोग ट्वीट करके उनको याद कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें:   एसी में हुआ विस्फोट, पति-पत्नी की मौत
Don`t copy text!