Malegaon Blast Case : मुख्य आरोपी Samir Kulkarni को महाराष्ट्र सरकार ने दी सुरक्षा

Share

आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और कर्नल प्रसाद पुरोहित को भी मिली है सुरक्षा

सुरक्षा गार्ड के साथ मालेगांव बम ब्लास्ट का आरोपी समीर कुलकर्णी

मुंबई।  2008 में हुए मालेगांव ब्लास्ट (Malegaon Blast Case) के मुख्य आरोपी समीर कुलकर्णी (Samir Kulkarni) को सुरक्षा प्रदान (Police Protection) की गई है। पुणे (Pune) के पिंपरी चिंचवड़ इलाके में रहने वाले समीर कुलकर्णी को बंदूकधारी सुरक्षागार्ड (Armed Security Guard) मुहैया कराया गया है। कुलकर्णी ने मई 2019 को सरकार को पत्र लिख सुरक्षा की मांग की थी। मांग पूरी होने पर कुलकर्णी ने कहा कि उन्होंने कई महीनों पहले सुरक्षा की मांग की थी। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता कि अब ये सुरक्षा क्यों दी गई है। हो सकता है कि लखनऊ में हुए कमलेश तिवारी मर्डर केस (Kamlesh Tiwari Murder Case) की वजह से उन्हें गार्ड मुहैया कराया गया है।

समीर कुलकर्णी का ये भी कहना है कि वो सुरक्षा गार्ड की तनख्वाह नहीं दे सकते, लिहाजा सरकार को ही उसे पेमेंट देनी होगी। कुलकर्णी मालेगांव बम ब्लास्ट के ऐसे तीसरे आरोपी है, जिन्हें सुरक्षा प्रदान की गई है। आरोपी एवं भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर (Shadhvi Pragya Thakur) और आरोपी कर्नल प्रसाद पुरोहित को पहले से ही सुरक्षा मिली हुई है। मालेगांव बम ब्लास्ट (Malegaon Bomb Blast) मामले में रिटायर्ड मेजर रमेश उपाध्याय, सुधाकर द्विवेदी, अजय राहिरकर और सुधाकर चतुर्वेदी भी आरोपी है। 29 सितंबर 2008 को महाराष्ट्र के मालेगांव में मस्जिद के पास हुए बम ब्लास्ट में 6 लोगों की मौत हुई थी। करीब 100 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

मालेगांव बम ब्लास्ट की मुख्य आरोपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर है। आरोप है कि जिस बाइक पर बम लगाकर मस्जिद के पास खड़ा किया गया था वो प्रज्ञा ठाकुर की थी। इस मामले में प्रज्ञा ने जेल भी काटी है, उन्हें मेडिकल ग्राउंड पर जमानत मिली हुई है। जमानत पर रिहा प्रज्ञा ठाकुर को भारतीय जनता पार्टी ने भोपाल लोकसभा सीट से टिकट दिया था, चुनाव जीतकर आरोपी प्रज्ञा ठाकुर अब सांसद बन गई है।

यह भी पढ़ें:   #LokSabha : प्रज्ञा की शपथ के दौरान विपक्ष का हंगामा, निर्दलीय सांसद को जय श्रीराम के नारे पर आपत्ति
Don`t copy text!