Bhopal Crime News: कार पार्क के विवाद में गई महिला की जान

Share

Bhopal Crime News: बंदूक निकालकर महिला के नाबालिग बच्चे को धमका रहा था आरोपी

Bhopal Crime News
File Image

भोपाल। कार पार्किग के विवाद में एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Bhopal Suspicious Death) हो गई। पुलिस का दावा है कि महिला की मौत बंदूक देखने से आए सदमे की वजह से हुई है। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) की है। जिस पर बंदूक निकालकर तानी गई थी वह नाबालिग था। मौत उसी नाबालिग बच्चे की मां की हुई है। पुलिस ने फिलहाल मर्ग कायम करने के अलावा मारपीट का भी प्रकरण दर्ज किया है।

पति—पत्नी समेत तीन आरोपी बने

बैरागढ़ थाना पुलिस के अनुसार घटना 30 दिसंबर की शाम लगभग साढ़े सात बजे की है। यहां रेलवे स्टेशन के पास जाट एरिया में पीड़ित परिवार रहता है। शिकायत 14 वर्षीय नाबालिग ने दर्ज कराई है। वह कक्षा नौंवी का छात्र है। वह केटी साहनी स्कूल (KT Sahani School) में पढ़ाई करता है। उसने बताया कि चाचा पुरुषोत्तम नेनवानी (Puroshottam Nainwani) के साथ लक्ष्मण नगर से घर आया था। उस वक्त मनीष ओचानी (Manish Ochani) की नैनो कार घर के सामने पार्क थी। उसे हटाने के लिए नाबालिग ने बोला तो मनीष का ससुर वीरुमल बाहर निकलकर आया और कार हटाने से मना कर दिया।

यह भी पढ़ें: दिल्ली के इस एसीपी की वर्दी वाली तस्वीर की कहानी जिसको भोपाल के लोग आसानी से भूल नहीं पाए

मां को लगा गोली मारने वाला है

इसी बात पर कहासुनी शुरु होने लगी। मनीष ओचानी ने नाबालिग को तमाचा भी मार दिया। झगड़े की आवाज सुनकर उसकी मां दीपा नेनवानी (Deepa Nainwani) बाहर आ गई। दोनों परिवारों के बीच धक्का—मुक्की और गाली—गलौज होने लगी। मां दीपा नेनवानी बीच—बचाव कर रही थी। तभी मनीष ओचानी नैनो कार में पहुंचा और उसने बंदूक निकालकर धमकाया। परिवार ने दीपा नैनवानी को घर के भीतर कर दिया। विवाद जब शांत हुआ तो परिवार घर के भीतर गया। वहां दीपा नेनवानी घबराहट में थी और वह बीमार लग रही थी। परिजन उसको कार से कृष्णानी अस्पताल (Krishnani Hospital) ले गए। वहां अस्पताल ने भर्ती करने की बजाय एलबीएस अस्पताल (LBS Hospital) ले जाने के लिए कहा। एलबीएस अस्पताल में डॉक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: दो गांजा तस्कर से 21 किलो गांजा जब्त

बंदूक पर सस्पेंस

मामले की जांच कर रहे अधिकारी एएसआई मोहन शर्मा (ASI Mohan Sharma) का कहना है कि अभी बंदूक को लेकर कोई सबूत पुलिस को नहीं मिले हैं। इस मामले में आरोपी वीरुमल (Veerumal), मनीष ओचानी और मनीष की पत्नी सोनल (Sonal Ochani) के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 294/323/506/34 (गाली—गलौज, मारपीट, धमकी और एक से अधिक आरोपी) का प्रकरण बनाया है। आरोपी सोनल का कहना था कि मनीष के पास बंदूक खिलौने की थी। मनीष कोहेफिजा स्थित पंचवटी कॉलोनी में रहता है। वह अपने ससुराल आया हुआ था जो घटना के बाद से फरार है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!