Bhopal Crime: आग से झुलसी दो महिलाओं की दर्दनाक मौत

एक घटना की अस्पताल ने नहीं दी जानकारी दूसरे मामले में दर्ज हो चुके बयान

Bhopal crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) आग से झुलसी दो महिलाओं की इलाज के दौरान दर्दनाक मौत (Bhopal Scorching Death Case) हो गई। दोनों घटनाएं खाना बनाते वक्त हुए हादसे (Bhopal Burn Death Case) की वजह से हुई थी। यह मामले मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के हैं। पुलिस को एक घटना की जानकारी अस्पताल ने पहले दर्ज नहीं कराई थी। पुलिस ने दोनों मामलों में मर्ग कायम कर जांच शुरु कर दी है।

निशातपुरा थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि घटना 11 मई की रात 8 बजे नवाब कॉलोनी की है। घर पर शाहिदा बी (Shahida Bi Death) पत्नी रईस मियां उम्र 35 साल आग से झुलस गई थी। वह घटना के वक्त स्टोव्ह पर खाना बना रही थी। तभी स्टोव्ह भभक गया। शाहिदा के दो बच्चे है और पति हम्माल है। प्रधान आरक्षक हरि नारायण (HC Hari Narayan) ने बताया कि इलाज के दौरान मंगलवार 12 मई की शाम 7 बजे मौत हुई थी। इससे पहले पुलिस ने मौके पर जाकर पहले ही पड़ताल कर ली थी। इसी तरह ईटखेड़ी थाना क्षेत्र स्थित मनीखेड़ी कोर्ट निवासी उर्मिला साहू (Urmila Sahu) पत्नी राकेश साहू उम्र 40 साल की मौत हो गई। उर्मिला 8 मई की रात लगभग 8 बजे आग से झुलसी थी। वह चूल्हे में खाना बना रही थी। चूल्हे को सुलगाने के लिए उसने घासलेट डाला जिसकी वजह से जोरदार भभके के साथ साड़ी ने आग पकड़ ली। चीख पुकार सुनकर पति राकेश साहू (Rakesh Sahu) बचाने पहुंचा तो वह भी झुलस गया। मामले की जांच कर रहे एसआई बंशीलाल मरावी (SI Bansilal Maravi) ने बताया कि घटना वाले दिन अस्पताल से सूचना नहीं मिली थी। महिला के तीन बच्चे है और पति मजदूरी करता है।

यह भी पढ़ें:   आईपीएल मामले में 11वें घर पर दबिश, आयकर को मिली 50 करोड़ अघोषित आय की जानकारी

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!