Bhopal Crime: झांड़—फूंक के दौरान अधेड़ व्यक्ति की मौत

पीलिया रोग की वजह से परिवार करा रहा था झाड़ फूंक, पुलिस ने शव पीएम के लिए भेजा

Bhopal Crime
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News) विश्व कोरोना वायरस की महामारी से चिंतित है। उसकी वैक्सीन छह महीने बाद भी कोई भी देश नहीं बना सका है। नतीजतन, हर छोटे—बड़े देश में मौतों (Bhopal Suspension Death Case) की संख्या थमने का नाम नहीं ले रही। अब तक इस महामारी की वजह से लगभग सवा दो लाख लोगों की मौत (Madhya Pradesh Covid 19) की है। लेकिन, एक ऐसी बीमारी जिसकी दवा काफी अरसे पहले बन गई है उसकी वजह से मौत (Madhya Pradesh Suicide Case) का मामला सामने आया है। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के देहात क्षेत्र में स्थित गुनगा थाना क्षेत्र की है। चौंकाने वाली बात यह है कि परिवार उस व्यक्ति को इलाज की बजाय ओझा के पास झाड़—फूंक कराने गया था।

गुनगा पुलिस ने द क्राइम इंफो डॉट कॉम (thecrimeinfo.com) को बताया कि घटना ग्राम मनीखेड़ी की है। यहां सोमवार दोपहर लगभग तीन बजे रुप सिंह पिता ओम प्रकाश उम्र 50 साल को झाड़—फूंक के लिए लाया गया था। रुप सिंह आटा चक्की चलाता था। उसको पीलिया रोग हो गया था। जिसका इलाज कराने की बजाय परिवार झाड़—फूंक करा रहा था। मामले की जांच कर रहे हवलदार राजपदम पाठक ने बताया कि घटना की सूचना कमलेश कुशवाहा ने पुलिस को दी थी। पुलिस ने शव पीएम के लिए बैरसिया अस्पताल भेज दिया है। पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद मौत के वास्तविक कारण पता चल सकेंगे। इसके बाद पुलिस जांच के बिंदु तय करेगी। फिलहाल परिवार ने पीलिया रोग को कारण बताया है। इधर, निशातपुरा इलाके में एक बीमार महिला की मौत हो गई। महिला को परिजन भोपाल मेमोरियल अस्पताल ले गए थे। रुप नगर करोद निवासी नर्मदी बाई उम्र 62 साल को लकवे का रोग था। इस कारण वह दो साल से बिस्तर पर थी। एएसआई जोगेन्द्र नेगी ने बताया कि नर्मदी बाई ने पेट में दर्द की शिकायत की थी। जिसके बाद उसको परिजन इलाज के लिए ले गए थे।

यह भी पढ़ें:   MP Horse Trading : 4 विधायक अब भी लापता, सरकार पर सस्पेंस बरकरार

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!