Bhopal Corona Update : संदिग्ध Corona Patient की भोपाल में मौत

Share

सर्दी—खांसी, जुकाम के मरीज को डॉक्टरों ने हमीदिया रैफर किया लेकिन परिवार घर ले गया

Bhopal Suspected Death
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवक की मौत (Bhopal Suspicious Corona Pationt Death) हो गई। जिस युवक की मौत हुई थी वह सर्दी—जुकाम और खांसी से पीड़ित था। घटना मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के छोला मंदिर थाना क्षेत्र की है। इस घटना में यह भी पता चला है कि युवक की हालत को देखकर चिकित्सकों ने उसको हमीदिया अस्पताल रैफर किया था। लेकिन, परिजन उसको अपने घर ले गए थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

छोला मंदिर थाना पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि जिस युवक की मौत हुई है उसका नाम 22 वर्षीय किशोर यादव (Kishore Yadav) है। वह शबरी नगर इलाके में रहता था। पिता हरी सिंह यादव उसको 28 मार्च की सुबह जेपी अस्पताल ले गए थे। यहां चिकित्सकों ने उसको मृत घोषित करके पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस को पता चला कि किशोर को परिजन 26 मार्च को कमला नेहरु अस्पताल ले गए थे। उसकी हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उसको हमीदिया अस्पताल रैफर किया था। लेकिन, परिजन उसको हमीदिया अस्पताल ले जाने की बजाय घर ले गए थे। किशोर पहले होटल में नौकरी करता था। पुलिस ने बताया कि मौत कोरोना बीमारी से हुई है अथवा नहीं यह पीएम रिपोर्ट से पता चलेगा। इधर, किशोर के पिता ने बताया कि उसको कोरोना नहीं था। वह दाद की बीमारी से पीड़ित था। वह शरीर में फैल रहा था। इस कारण वह पांच महीने से होटल में नौकरी करने की बजाय घर पर ही बैठा हुआ था। पुलिस इस बात का भी पता लगा रही है कि आखिर परिवार बेटे को हमीदिया अस्पताल में क्यों नहीं ले गया। पुलिस ने पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।

यह भी पढ़ें:   MP Police Gossip: कानूनी पेंच में हो रही फजीहत

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!