Bhopal Gang Rape Case: तलाकशुदा बहन का एसडीएम भाई पर गैंग रेप का आरोप

Share

Bhopal Gang Rape Case: दो महीने पहले मां ने बेटी पर दर्ज कराया था अड़ीबाजी करने का मुकदमा

Bhopal Gang Rape Case
सांकेतिक तस्वीर

भोपाल। तलाकशुदा एक महिला ने अपने सगे दो भाईयों पर गैंग रेप (Bhopal Gang Rape Case) करने का आरोप लगाया है। दोनों भाई सरकारी सेवा में हैं, जिसमें से एक भाई एसडीएम के पद पर तैनात है। जबकि दूसरा भाई स्टेशन मास्टर है। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की है। इस मामले में पुलिस तकनीकी बिंदुओं पर जांच कर रही है। दरअसल, जिस महिला ने गैंग रेप का आरोप लगाया है उसके खिलाफ दो महीने पहले ही उसकी मां ने अड़ीबाजी का मुकदमा दर्ज कराया था।

छह महीने तक छुपाकर रखा राज

मामले की जांच कर रही अधिकारी एसआई अर्चना तिवारी ने बताया कि इस मामले की एफआईआर मिसरोद थाना पुलिस ने दर्ज की है। यह एफआईआर 16 अक्टूबर की शाम लगभग पांच बजे दर्ज की गई है। पुलिस ने इस मामले में धारा 376(2)घ/120बी/201/323/506/ (गैंग रेप, साजिश, सबूत मिटाना और धमकाने) का मुकदमा बनाया गया है। शिकायत करने वाली महिला की उम्र 38 साल है। उसकी दो शादी हो चुकी है। दोनों पति से उसका तलाक भी हो गया है। महिला का दावा है कि गैंगरेप की यह घटना फरवरी, 2020 की है। इसके बावजूद महिला ने अपने साथ हुई इस घटना को राज बनाकर रखा। पुलिस का दावा है कि अभी मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें: लव सेक्स और धोखा की यह कहानी जिसका किरदार अब सलाखों के पीछे

यह है पेंच

शिकायत करने वाली महिला ने अपने दोनों सगे भाईयों पर गैंग रेप करने का आरोप लगाया है। इन आरोपों से पहले महिला के खिलाफ 22 अगस्त, 2020 में मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मुकदमे में पुलिस ने धारा 294/323/506/327 (गाली गलौज, मारपीट, धमकाने और अड़ीबाजी) की धारा लगाई थी। शिकायत उसकी मां ने ही थाने में दर्ज कराई थी। ताजा मामले में शिकायत करने वाली महिला के एक भाई एसडीएम हैं तो दूसरा रेलवे में नौकरी करता है। पीड़ित परिवार का दावा है कि यह पूर्व में दर्ज मामले में समझौता करने के लिएदबाव बनाने झूठी शिकायत दर्ज कराई गई है। परिवार का कहना है कि विवाद संपत्ति को लेकर है। गैंगरेप के आरोपियों में भाई के अलावा माता—पिता को भी शामिल होने का आरोप पीड़ित महिला ने होना बताया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Robbery Case: खिड़की के रास्ते घर में घुसे बदमाश

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!