Bhind Crime: रेत माफियाओं के खिलाफ डीआईजी चंबल का अभियान

लापरवाही बरतने वाले तीन टीआई सस्पेंड, पोकलेन मशीन भी जब्त

Bhind Ret Mafia
सांकेतिक चित्र

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) मध्य प्रदेश में एक बार फिर माफिया (MP Sand Mafia News) ने पैर पसारने शुरु कर दिए है। ताजा मामला मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) के भिंड (Bhind Crime News) इलाके से सामने आया है। यहां भारी भरकम पोकलेन मशीनों की मदद से रेत निकाली जा रही थी। जिसकी खबर लगने के बाद डीआईजी चंबल (Sand Mafia Raid Case) ने रात में दबिश दी। भारी मशीने जब्त करने के अलावा तीन थानों के टीआई को सस्पेंड कर दिया गया। इस पूरी कार्रवाई को राजनीतिक चश्मे से भी देखा जा रहा है। दरअसल, यहां कुछ महीनों बाद उपचुनाव भी होने हैं।

जानकारी के अनुसार रेत खनन की यह कार्रवाई अतरसूमा और इंदुर्खी इलाकों की है। यहां से एक पोकलेन और दो डंपर जब्त किए गए हैं। कार्रवाई बुधवार शाम डीआईजी चंबल राजेश हिंगणकर (DIG Rajesh Hingarkar) के नेतृत्व में की गई थी। उनके साथ एसपी भिंड नगेन्द्र सिंह (SP Bhind Nagendra Singh) भी थे। कार्रवाई के बाद एसपी नगेंद्र सिंह ने रौन थाने के प्रभारी संजीव नयन शर्मा (Sanjiv Nayan Sharma), उमरी थाना प्रभारी महेश शर्मा (Mahesh Sharma) और अमायन थाना प्रभारी जितेंद्र तोमर (Jitendra Tomar) को निलंबित भी कर दिया। एसपी ने तीनों अफसरों के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं। वहीं कार्रवाई के दौरान खनन विभाग के अफसर भी साथ थे। लेकिन, खनन विभाग के किसी भी अफसर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। बताया जाता है कि यह भिंड विधानसभा में आता है जिसके विधायक संजीव सिंह कुश्वाह है। इस इलाके में लंबे अरसे से अवैध रेत खनन की जानकारी प्रशासन को मिल रही थी। लेकिन, कार्रवाई पुलिस विभाग के अफसरों ने की।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: रिश्तेदार ने बीएससी की छात्रा से छेड़छाड़

अपील

देश वैश्विक महामारी से गुजर रहा है। हम भी समाज हित में स्पॉट रिपोर्टिंग करने से बच रहे हैं। इसलिए समाज और लोगों से अपील करते हैं कि यदि उनके पास भ्रष्टाचार, कालाबाजारी या जिम्मेदार अफसरों की तरफ से लापरवाही की कोई जानकारी या सूचना हैं तो वह मुहैया कराए। www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!