Sohan Gupta Murder Case: भाई पर था शक, दोस्त निकला कातिल

Share

Sohan Gupta Murder Case: पहले ही दिन परिवार ने सबकुछ पुलिस को बताया, चार दिन लग गए सोहन गुप्ता की निर्मम हत्याकांड को सुलझाने

Sohan Gupta Murder Case
सोहन गुप्ता जिसकी बेरहमी से हत्या की गई है।

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की ताजा न्यूज (Sohan Gupta Murder Case) पिपलानी इलाके से मिल रही है। यहां 23—24 अगस्त की रात सोहन गुप्ता की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड को लेकर पिछले ​तीन दिनों से कई उतार—चढ़ाव वाले फैसले लेती हुई थाने की टीम नजर आई। आखिरकार अंत में फैसला परिजनों के पहले दिन बताई गई जानकारी से ही मेल खाता नजर आया। इससे पहले पुलिस परिवार पर शक जता रही थी।

इतने सारे अफसर नाम पता नहीं लगा सके

पिपलानी थाना पुलिस ने बताया कि राहुल कोली उर्फ बारीक (Rahul [email protected]) और गोपाल नगर निवासी विक्रांत खरे उर्फ अखिल को गिरफ्तार किया गया है। जबकि हत्याकांड में शामिल एक अन्य आरोपी की अभी तलाश की जा रही है। पुलिस ने उसके नाम का खुलासा नहीं किया है। इस हत्याकांड के खुलासे में 17 अधिकारी और कर्मचारी तैनात थे। इसमें अवधपुरी और अयोध्या नगर थाने के कर्मचारी भी थे। पुलिस ने इस संबंध में प्रेस विज्ञप्ति जारी की है। जिसमें आरोपियों केे पिता से लेकर उनकी जानकारी अभी सार्वजनिक नहीं की गई है। जबकि कई अफसर जांच में लगे थे। हालांकि जो बात पुलिस चार दिन बात बता रही है वह पहले दिन से परिवार प्रदर्शन करके भी बता चुका है।

यह बोलकर विवाद बना दिया…

Sohan Gupta Murder Case
मंगलवार को पीएम के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर थाने के सामने शव रखकर प्रदर्शन करते सोहन गुप्ता के परिजन और रिश्तेदार।

घटनास्थल 40 क्वार्टर झुगगी बस्ती है। हत्या सोहन गुप्ता (Sohan Gupta Murder Case) की गई थी। उसका सिर बुरी तरह से कुचला गया था। ताकि शव की पहचान नहीं हो सके। वह चार भाई और तीन बहनों में दूसरे नंबर का था। सोहन गुप्ता हलवाई का काम करता था। उसकी चार महीने पहले ही शादी हुई थी। पुलिस और सोहन गुप्ता के परिवार के बीच पहले दिन से टकराव की स्थिति बनी रही। दरअसल, घटनास्थल पर पुलिस काफी देरी से पहुंची थी। यह बात तो दबाई गई। लेकिन, अगले दिन परिवार ने थाने के बाहर शव रखकर प्रदर्शन कर दिया। फिर अफसरों की तरफ से दावा किया गया कि सोहन के ही तीन भाईयों में से एक ने हत्या की है।

यह भी पढ़ें:   Madhya Pradesh : बेटे को परीक्षा दिलाने के लिए पिता ने चलाई 105 किलोमीटर साइकिल

यह खरतनाक संकेत…

Sohan Gupta Murder Case
थाना पिपलानी, जिला भोपाल— फाइल फोटो

पुलिस का दावा है कि यह बात राहुल कोली उर्फ बारीक और विक्रांत खरे (Vikrant Khare) ने उनके दिमाग में डाली थी। इसलिए पुलिस कुछ देर के लिए गुमराह भी हुई। सोहन गुप्ता के परिवार ने शादी के लिए कुछ उधार लिया था। इसी उधारी की रकम न चुकाने और शराब पीने को लेकर भाईयों के बीच कहासुनी हुई थी। इसी घटना के बाद आरोपियों ने हत्या की थी। राहुल कोली ने पूछताछ में बताया कि उसको गांजा पीने के लिए 700 रुपए चाहिए थे। इसी रकम को देने से उसने इंकार कर दिया था। हालांकि चिंता वाली बात यह है कि इस इलाके में काफी ज्यादा गांजा के सप्लाई सेंटर बन गए है। जिसको लेकर पुलिस के अफसर खामोश है।

यह पढ़ने के लिए क्लिक करें: शादी के आठ महीने तक पहली रात के सुख को तरसी, विवाहिता को सच पता चला तो पैरों तले जमीन खिसक गई

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Sohan Gupta Murder Case
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!