मध्यप्रदेश : विधवा महिला से 5 दरिंदों ने किया सामूहिक दुष्कर्म, हालत गंभीर

Share

पुलिस की लापरवाही आई सामने, मामला बिगड़ा तो दर्ज हुई एफआईआर

Rewa Gang Rape
सांकेतिक चित्र

रीवा। (Rewa) मध्यप्रदेश में दुष्कर्म की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। लगातार गैंगरेप के मामले सामने आ रहे है। खरगोन, नरसिंहपुर के बाद होशंगाबाद और रीवा से सामूहिक दुष्कर्म (Rewa Gang Rape) के मामले सामने आए है। रीवा में एक विधवा महिला के साथ दरिंदगी की गई। 5 दरिंदों ने उसे हवस का शिकार बनाया। पीड़िता की तबियत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कर दिया और आरोपी फरार हो गई। इस मामले में पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगे है। मामले को दबाने की कोशिश की गई। लेकिन जब पीड़िता की हालत बिगड़ी तो उसके बेटे की शिकायत पर आनन-फानन में मामला दर्ज कर लिया गया।

शराबियों ने किया अपहरण

घटना जिले के शाहपुर थाना इलाके की है। पीड़िता के पुत्र ने बताया कि गत 30 सितंबर की रात उसके गांव के समीप रहने वाले अरुण सिंह ठाकुर अपने पांच साथियों के साथ घर के समीप शराब पी रहे थे वह मेरी मां को लेकर रात में कहीं चले गए हम लोगों ने रात में ही उसे खोजने का प्रयास किया लेकिन मां का कहीं पता नहीं चला दूसरे दिन हमें उनके द्वारा बताया गया कि तुम्हारी मां संजय गांधी अस्पताल में भर्ती है तुम रिपोर्ट मत करना तुम्हें हम लोग पैसा भी देंगे जब मैं अस्पताल पहुंचा तो पता चला मेरी मां के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है जिसकी सूचना मैंने पुलिस अधीक्षक रीवा को दी है जिसके बाद रविवार की देर रात महिला थाने में अपराध पंजीबद्ध हुआ है।

यह भी पढ़ें:   मध्यप्रदेश : 15 साल की लड़की से तीन दरिंदों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

पीड़िता की हालत गंभीर

महिला थाना प्रभारी आराधना सिंह परिहार ने बताया कि पुत्र के बयान के आधार पर अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कर लिया गया है मैं स्वयं पीड़िता से बयान लेने अस्पताल पहुंची थी लेकिन वह बोलने की स्थिति में नहीं है लिहाजा उसके बयान नहीं हो सके हैं साथ ही अब हम मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं हालांकि कुछ संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़ेंः दलित नवविवाहिता से गैंगरेप, जंगल में ले जाकर 7 ने किया सामूहिक दुष्कर्म

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!