Nepali Community News: पत्नी दुबई तो बेटा बड़ौदा में था मौजूद, इसलिए आगे आया नेपाली समाज

Share

Nepali Community News: होटल गोल्डन पैलेस के कर्मचारी को हमीदिया अस्पताल में मृत घोषित किया, होटल मालिक ने नेपाल में कॉल करके भोपाल में ऐसे की परिवार की मदद

Nepali Community News
भोपाल मॉर्चुरी रुम— ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। गोल्डन पैलेस होटल के एक कर्मचारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। यह घटना भोपाल सिटी के मंगलवारा थाना क्षेत्र की है। लाश दो दिनों से हमीदिया अस्पताल की मर्चुरी में रखी थी। जिसकी जानकारी डॉक्टरों ने पुलिस को देरी से दी। इस पूरे मामले में नेपाली समाज (Nepali Community News) आगे आया और उसने अंत्येष्टि की। जब हकीकत पता लगाने के लिए होटल मालिक पंकज माखीजा (Pankaj Makhija) से संपर्क किया गया तो उन्होंने परिवार तक संदेश पहुंचाने से लेकर भोपाल में अंत्येष्टि इंतजाम के लिए कुछ इस तरह से पहल के बारे में बताया। पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट मिलने के बाद वह जांच के बिंदु तय करेगी।

अस्पताल ने भी जानकारी नहीं दी

मंगलवारा थाना पुलिस के अनुसार 14 जनवरी को हमीदिया अस्पताल से डॉक्टर चौकसे (Dr Choukse) ने एक व्यक्ति के मृत होने की सूचना दी थी। मृतक की पहचान मोती भंडारी पिता टीकाराम उम्र 38 साल के रुप में हुई। मंगलवारा पुलिस मर्ग 03/22 दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। मामले की जांच एएसआई जगदीश रघुवंशी (ASI Jagdish Raghuvanshi) कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मोती भंडारी की पत्नी सीता भंडारी (Sita Bhandari) दुबई में जॉब करती है। बेटा गुजरात के बड़ौदा में स्थित होटल में नौकरी करता है। दोनों भोपाल आने में असमर्थ थे। उसका शव दो दिनों से मर्चुरी रुम में रखा था। शव पीएम के बाद नेपाली समाज के पदाधिकारियों को सौंप दिया गया है। प्राथमिक जांच में पता चला है कि वह होटल के कर्मचारियों के साथ बातचीत भी कर रहा था।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: छह साल की बच्ची से गंदा काम

ऐसे की गई अंत्येष्टि

Nepali Community News
मोती भंडारी की भोपाल में स्थित भदभदा विश्राम घाट में अंत्येष्टि करते हुए नेपाली समाज के पदाधिकारी— तस्वीर नेपाली समाज के अध्यक्ष की तरफ से मुहैया कराई गई।

मोती भंडारी (Moti Bhandari) नेपाल के प्यूठान इलाके का रहने वाला था। वह गोल्डन पैलेस होटल में चार महीने पहले ही नौकरी करने आया था। पुलिस का कहना है कि अभी वि​स्तृत बयान दर्ज किया जाना बाकी है। इधर, श्रीपशुपतिनाथ नेपाली समाज के अध्यक्ष विष्णु शर्मा (Vishnu Sharma) ने बताया कि मोती भंडारी को जब हमीदिया अस्पताल लाया गया तब वह मृत हालत में था। यह बात हमें अस्पताल से पता चली है। इससे पहले होटल के मैनेजर ने मोती भंडारी के नेपाल (Nepali Community News) में स्थित परिजनों को फोन लगाया था। जिनके रिश्तेदार नील बहादुर ने शिवाजी नगर में रहने वाले नारायण को फोन किया। नारायण ने नेपाली समाज के सक्रिय सदस्य पीताम्बर पुलामी से मदद ली। जिसके बाद नेपाली समाज की पहल पर भदभदा विश्राम घाट में अंत्येष्टि की गई।

यह भी पढ़ें: पुलिस कमिश्नर प्रणाली में क्या इन रसूखदार बिल्डर के खिलाफ जिनकी दर्जनों शिकायतें थाने में धूल खा रही है उसमें कार्रवाई होगी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Nepali Community News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!