MP Cop Gossip: थानेदार ने फिर कराई फजीहत

Share

MP Cop Gossip: सेक्स रैकेट में निलंबन के बाद बहाल हुए सब इंस्पेक्टर पर बलात्कार का मामला दर्ज

MP Cop Gossip
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। मध्यप्रदेश पुलिस महकमा काफी बड़ा है। इसमें कई खबरें भीतर ही भीतर चल रही होती है। जिनके दस्तावेज या जानकारी लीक नहीं होते। ऐसे समाचार हमारे यहां एमपी कॉप गॉसिप (MP Cop Gossip) के रुप में होते हैं। यह कॉलम हर गुरुवार सुबह 7 बजे प्रकाशित होता है। इसके जरिए हमारा मकसद भीतर की बातों को सामने लाना होता है। हम इसके जरिए किसी व्यक्ति, संस्था या फिर पद को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते हैं। इसलिए इसको गॉसिप कहकर टाल जाते हैं।

भोपाल के कारोबारी की पत्नी

उज्जैन के चिमनगंज थाने में सब इंस्पेक्टर विकास देवड़ा (SI Vikas Devda) पर बलात्कार की एफआईआर हुई है। वे महकमे के काफी विवादित अफसर रहे हैं। इसके बावजूद वे कई अन्य दूसरी जांच से बाहर निकल आए थे। उन पर उज्जैन के ही नानाखेड़ा सेक्स रैकेट मामले में जांच हुई थी। इस दौरान वे निलंबित भी रहे थे। हालांकि उन्हें बरी कर दिया गया था। जिन्होंने क्लीनचिट दी अब उनकी जांच पर सवाल खड़े हो रहे हैं। दरअसल, भोपाल के एक कारोबारी की पत्नी ने एसआई विकास देवड़ा पर चिमनगंज थाने में बलात्कार की एफआईआर दर्ज कराई है। उन पर रतलाम की 80 बीघा जमीन हड़पने का भी आरोप है। इसके अलावा निजी पलों के फोटो वायरल करने की धमकी देकर 10 लाख रुपए ऐंठने के भी संगीन आरोप लगे हैं।

जुआरी—सटोरियों को भी नोटिस

MP Cop Gossip
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

शहर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू हो गई है। इसके बाद अब थाना क्षेत्र में ऐसे परिवारों को चिन्हित किया जा रहा है जो अक्सर कानून—व्यवस्था निर्मित कर देते हैं। कई थानों में यह संख्या कम है। इसलिए थानों के अधिकारी अपनी कार्रवाई का नंबर बढ़ाने एक तकनीक पर काम कर रहे हैं। वे इलाके जुआरी—सटोरियों को नोटिस देकर एसीपी की कोर्ट में पहुंचा रहे हैं। जिसमें चांदी उनके नोटिस का जवाब देने वाले वकीलों की हो रही है। अब देखना यह है कि यह कसरत कब तक भीतर ही भीतर चलती है। कभी तो कोई उबलेगा और फूटकर बाहर निकलेगा। फिर क्या जवाब देंगे अफसर।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: कोरोना संक्रमित मरीज के घर चोरी की वारदात

हिंदी हैं हम वतन हैं…

शहर के एक वीआईपी थाने के यह साहब प्रभारी है। इस थाने की खासियत यह है कि यहां काम कम बेगार ज्यादा है। मसलन ट्रेन में बैठा दो या वीआईपी है शराबत पिला दो। प्रभारी महोदय कक्षा पांचवीं उत्तीण हैं और विभागीय पदोन्नति के जरिए कुर्सी (MP Cop Gossip) पर बैठे हैं। साहब की अंग्रेजी पर थोड़ी पकड़ कम है। कई बार उन्हें अफसरों के साथ वीसी पर आन लाइन आना पड़ता है। इसके लिए वे मोबाइल आपरेट नहीं कर पाते हैं। इस कारण कई बार उन्हें अपने ही शिक्षित मातहत के जरिए अफसरों के सामने नंबर गेम बढ़ाना पड़ते हैं।

महिला अफसर को सिपाही ने जड़…

MP Cop Gossip
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

यह समाचार काफी भीतरी है और सनसनीखेज भी है। इसकी मुख्य पात्र महिला अधिकारी हैं। महिला अफसर का हम सम्मान भी करते हैं। इसलिए उनके साथ जो हुआ वह अच्छा नहीं कहा जा सकता। महिला अधिकारी के एक हवलदार काफी मुंह लगा था। अब वह दूसरी जगह चला गया है। उसके जाते ही दूसरे हवलदार ने अपने नंबर बढ़ाने के लिए एक दिन पुराने वफादर की बातें रिकॉर्ड कर ली। वह काफी अच्छी नहीं है इसलिए यहां जिक्र करना उचित नहीं होगा। एक दिन पुराने वफादार का महिला अफसर से आमना—सामना हो गया। जिसके बाद अधिकारी ने आव देखा न ताव हवलदार पर तमाचा जड़ दिया। पुराने वफादर को ऐसा होने का इल्म पहले से ही था। इसलिए वह भी पूरी तैयारी के साथ गया था। उसने एक के बदले चार सूद समेत वापस कर दिए। जिसके बाद हवलदार को मौजूदा जगह से भी पुलिस लाइन जाना पड़ा।

यह भी पढ़ें:   MP Corruption News: एक लाख की रिश्वत लेते एक्जीक्यूटिव इंजीनियर गिरफ्तार

नेपाली लड़की की दीवानगी की कहानी पढ़िए जिसमें वह अपने दो मासूम बच्चों को छोड़कर भोपाल में लड़की से शादी करने शिमला से भागकर आई

खबर के लिए ऐसे जुड़े

MP Cop Gossip
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!