Varanasi Shot Murder: बाइक सवार बदमाशों ने हिस्ट्रशीटर को गोली मारी, दो की मौत, एक घायल

Share

Varanasi Shot Murder: अवैध हथियारों की खरीद—फरोख्त के लिए चर्चित था बदमाश

Varanasi Shot Murder
सांकेतिक चित्र

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश के 100 शहरों को 2014 स्मार्ट सिटी (Smart City) बनाने की घोषणा की थी। उनमें से उनका संसदीय क्षेत्र का भी नाम था। लेकिन, वह स्मार्ट सिटी बनी हो या नही लेकिन क्राइम सिटी (Crime City) जरूर बन गई है। उत्तरप्रदेश (UP Crime News) के काशी मे चौकाघाट के काली मंदिर के पास दो बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े दो लोगों की गोली मारकर हत्या (Varanasi Shot Murder) कर दी। साथ ही एक घायल हो गया है। जख्मी व्यक्ति को मलदहिया स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हिस्ट्रीशीटर था मरने वाला

बताया जाता है कि खजुरी निवासी अभिषेक सिंह प्रिंस (Abhishek Singh Prince) उम्र 36 साल कैंट थाने का हिस्ट्रीशीटर बदमाश था। वह अवैध हथियारों की खरीद-फरोख्त के लिए चर्चित था। अभिषेक मुगलसराय से अपने दोस्त दीपक (Deepak) के साथ बाइक से शहर आ रहा था। चौकाघाट स्थित काली मंदिर के पास होंडा शाइन बाइक सवार बदमाशों ने अभिषेक पर हमला कर दिया। बदमाशों ने लगातार तीन गोली मारी।

बदमाशों की रंजिश में बेगुनाह मरा

गोली लगने से हिस्ट्रीशीटर अभिषेक (Abhishek Singh Murder) की मौके पर ही मौत हो गई। फायरिंग में एक गोली दीपक की रीढ़ की हड्डी पर लगी है। जब यह गोलीबारी हो रही थी तब वहां से गुजर रहे चौकाघाट क्षेत्र निवासी बाल्मीकि (Balmiki) उम्र 52 साल भी चपेट में आ गए। उन्हें भी गोली लगी और उनकी भी मौके पर ही मौत हो गई। दीपक को मलदहिया स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें:   रात में जारी हुई अधिसूचना, सीएम शिवराज ने हासिल किया विश्वास मत

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस

सूचना मिलने पर एसएसपी अमित पाठक (SSP Amit Pathak) पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार हिस्ट्रीशीटर अभिषेक का अवैध हथियारों की खरीदी—बिक्री को लेकर गुटों से विवाद हो गया था। पुलिस ने सुपारी देकर हत्या कराने की बात से इनकार नहीं किया है। लेकिन, वह सुराग तलाश रही है। आरोपियों को पकड़ने की कोशिश की जा रही है।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की गरीबों के लिए की गई घोषणा, ऐसे मिलेगा फायदा

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!