Chhatarpur Kidnapping Case: करोड़ों की फिरौती पर ​टीआई के बयान से सस्पेंस

Share

Chhatarpur Kidnapping Case: सरपंच के बेटे ने अपहर्ता को पकड़कर पुलिस को सौंपा

Chhatarpur Kidnapping Case
यह है वह बच्चा जो अपहर्ताओं के चंगुल में फंस गया था

छतरपुर। महज छह साल के मासूम बच्चे को अगवा (Chhatarpur Kidnapping Case) कर लिया गया। घटना मध्य प्रदेश (MP Crime News) के छतरपुर (Chhatarpur Crime News) जिले की है। जब बच्चे को अगवा किया गया तब अचानक चौकसी बढ़ा दी गई। दरअसल, एमपी—यूपी की सीमा के बीच एक बस हाईजैक (Bus Hijack Case) का मामला चल रहा था। अपहरण (Chhatarpur Child Kidnapping Case) करने वाले बच्चे को लावारिस छोड़ गए। लेकिन, सरपंच के बेटे ने अपहरण करने वालों के साथ बच्चे को बरामद करने में रोल निभाया। हालांकि इस पूरी कहानी पर छतरपुर जिले के टीआई ने विरोधाभासी बयान देकर सस्पेंस फैला दिया है।

सोशल मीडिया में वायरल हुई तस्वीरें

सिविल लाइन थाना क्षेत्र के चौबे कॉलोनी (Choube Colony Kidnapping) से बुधवार को दिनदहाड़े एक बच्चे को अगवा कर लिया गया। वह बच्चा गुरुवार सुबह वहां से 9 किलोमीटर दूर एक पहाड़ी पर बने घर में सोते मिला। जानकारी के अनुसार दोनों संदिग्धों को सरपंच का लड़का माधव ने पकड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। एक संदेही को दबोच लिया गया जबकि मौका पाकर दूसरा फरार हो गया। इधर, शहर में बच्चे अभिग्न तिवारी (Abhigna Tiwari) को अगवा कर ले जाने की खबर से वैसे ही हड़कंप मचा था। लेकिन, नाटकीय मोड़ आने के बाद पूरा मामला पलटता नजर आ रहा है। पुलिस को इस कहानी के भीतर दूसरी कहानी नजर आ रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के बिगड़े कारोबारी इस होटल में अय्याशी के लिए आते थे, निशाने पर होती थी कम उम्र की लड़कियां

यह भी पढ़ें:   MP Police Gossip: नाचा—गाया बजाया और खा गए

इस कारण आया कहानी में मोड़

बच्चे के पिता ने काम करने वाली महिला के बेटे, पड़ोसी समेत एक अन्य व्यक्ति पर अपहरण का शक जताया था। जिसकी थाने में शिकायत भी दर्ज कराई गई थी। घर के आस—पास लगे सीसीटीवी की छानबीन की जा रही थी। परिवार ने जिन व्यक्तियों पर संदेह जताया था उनको हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही थी। थाना प्रभारी धर्मेन्द्र कुशवाहा (TI Dharmendra Kushwaha) ने बताया कि संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है। गुरुवार शाम तक पूरे मामले का पर्दाफाश हो सकता है। बच्चा जहां मिला वहां ज्यादा मकान नहीं हैं। दो कमरे के मकान में बच्चा सोते हुए मिला। जिन संदिग्धों को जनता ने सौंपा हैं उनसे पूछताछ की जा रही है। थाना प्रभारी ने इशारों ही इशारों में बताया कि सच आज शाम तक सामने आ जाएगा।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!