Bhopal Suicide Case: मां से झगड़ने के बाद बेटा फंदे पर झूला

Share

Bhopal Suicide Case: तीन लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत

Bhopal Suicide Case
सांकेतिक चित्र

(Bhopal Suicide Case) भोपाल। मां से विवाद के बाद एक बेटे ने फांसी (Bhopal Hanging Case) लगा ली। इधर, संदिग्ध परिस्थितियों में व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं एक वाहन की टक्कर से व्यक्ति की मौत हुई है। संदिग्ध परिस्थितियों में हुए मौत के यह तीनों मामले मध्यप्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) के है। आत्महत्या (Bhopal Suicide Case) में पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। तीनों के शव पीएम के बाद परिजनों को सौंप दिए गए हैं।

इसलिए हुआ था मां से विवाद

कोलार थाना पुलिस ने बताया कि राहुल जोशी (Rahul Joshi) पिता स्वर्गीय मुंकुंद जोशी उम्र 32 साल निवासी अविनाश अपार्टमेंट डी—सेक्टर में रहता था। राहुल उसकी बूढ़ी मां गीता जोशी (Geeta Joshi) के साथ रहता था। वह इलेक्ट्रिशियन का काम भी करता था। राहुल शराब पीने का आदी था। इसी कारण उसकी मां से बनती नहीं थी। घटना वाले दिन भी वह शराब के नशे मेंं घर आया था। मां से इसी बात को लेकर उसका विवाद हुआ था। वह कमरे में चला गया था। कुछ देर बाद जब मां ने देखा तो राहुल (Rahul Joshi Suicide Case) पंखे से साड़ी का फंदा बनाकर लटका था। लोगों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने फंदे से उतारकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। वहीं घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस जांच की दिशा तय करेगी।

घर लौटते समय हुआ हादसा

ईटखेड़ी थाना पुलिस ने बताया कि शाहिद खान (Shahid Khan) पिता हामिद खान उम्र 30 साल निवासी जीनियस स्कूल के पास कल्याण नगर में रहता था। शाहिद हम्माली का काम करता था। सोमवार रात वह बाईक से लांबाखेड़ा से लौट रहा था। अचानक लांबाखेड़ा आम रोड़ पर पीछे से कार चालक ने उसकी बाइक को टक्कर मार दी थी। टक्कर के बाद कार चालक (Bhopal Road Accident) मौके से फरार हो गया था। जख्मी को हमीदिया अस्पातल लेकर पहुंचे थे। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

यह भी पढ़ें:   Gwalior Crime : कांस्टेबल की पत्नी का 6 महीने तक बंधक बनाकर किया गया यौन शोषण

यह भी पढ़ें: बिल्डर के ड्राइवर ने घटनाक्रम बदला, खबर मिलने के बावजूद पुलिस थाने ने चुप्पी साध ली

पैरों में थी सूजन

कटारा हिल्स थाना पुलिस ने बताया कि रानू अटल (Ranu Atal) पिता ज्ञानेशचंद्र अटल उम्र 44 साल निवासी हेमंत लाइफ कटारा इलाके में रहते थे। रानू की पत्नी गंजबसौदा की रहने वाली थी। तीन महीने पहले ही उन्होंने माधव इंटरप्राइजेस कोलार में नौकरी ज्वाइन की थी। रानू वहां मुनीम थे। उन्हें कुछ दिनों से पैरों में सूजन थी। वह बाथरूम में मोबाईल चलाने की आदत थी। दो घंटे में वह फ्रैश होते थे। सोमवार शाम 5:30 बजे घर आ गए थे। सोमवार—मंगलवार की दरमियानी रात जब वह कमरे में नहीं दिखे तो परिजनों ने उन्हें देखा था। रानू चित हालत में पलंग के पास नीचे तकियां लगाकर लेटे हुए थे। परिजन उन्हें एम्स अस्तपाल (Bhopal AIIMS Hospital) लेकर पहुंचे थे। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। मौत का कारण हार्टअटैक बताया जा रहा है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

 

Don`t copy text!