Satna Crime News : चार हाथ की जमीन का चार दर्जन अफसर नहीं कर पा रहे निपटारा

Share

Satna Crime News : दो परिवारों के बीच चल रही हैं खूनी जंग, पीड़ित परिवार को हत्या होने का भय

Satna Crime News
यह है वह जमीन जिसको लेकर एक परिवार पर जान का भय है

सतना। मध्य प्रदेश (MP Crime News) में न्याय पाना दूर की कौड़ी बनता जा रहा है। यकीन न हो तो मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh Hindi News) के सतना (Satna Crime News) जिले का यह मामला देख लीजिए। यहां दो परिवारों के बीच चार हाथ की जमीन को लेकर विवाद (Satna Land Dispute) चला आ रहा है। इस विवाद की शिकायतें एसपी—कलेक्टर से लेकर चार दर्जन अफसरों को पीड़ित परिवार कर चुका है। अब तक किसी भी दरवाजे से पीड़ित परिवारों को न्याय नहीं मिला है। परिवार ने द क्राइम इंफो (www.thecrimeinfo.com) से इस विषय को उठाकर जनता के सामने लाने की मांग की थी।

एफआईआर के बदले मिली एडवाइस

यह विवाद का मामला सतना जिले के रामपुर बाघेलान (Rampur Baghelan Land Dispute) इलाके का है। यहां थाना प्रभारी मनोज सोनी (TI Manoj Soni) है। दरअसल, पीड़ित परिवार ने हमें बताया था कि उसकी एफआईआर हुई है। लेकिन, तीनों कागज जिसको पीड़ित परिवार एफआईआर समझ रहा था वह पुलिस का कागजी ज्ञान था। जिसमें लिखा गया था कि पीड़ित परिवार को अदालत में जाने की सलाह दी जाती है।

यह भी पढ़ें : चिरायु अस्पताल की छत का यह सीन देखकर आपको भी यकीन हो जाएगा कि कोरोना कुछ नहीं

एफआईआर न करने पर टीआई की रोचक दलील

थाना प्रभारी मनोज सोनी ने बड़े बेबाकी से जवाब दिया कि इलाके में जमीन से जुड़े बहुत सारे मामले है। इसलिए किस फरियादी की वह बातचीत कर रहे हैं वे अनजान बन गए। जब उनसे 155 की कार्रवाई करने पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा यह मारपीट की एफआईआर से कही ज्यादा अच्छी कार्रवाई हम करते हैं। थाने में ऐसे लोगों के खिलाफ धारा 107/116/151 की कार्रवाई की जाती है। यह कार्रवाई मुकदमे से कही ज्यादा अच्छी होती है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Chit Fund Case: चपरासी से डायरेक्टर बना जालसाज सलाखों के पीछे पहुंचा

पीड़ित परिवार से सुलह कराई

पीड़ित परिवार रामलोचन पांडे (Ramlochan Pande) का है। उनके बेटे विकास पांडे (Vikas Pande) ने बताया कि वह सिलपरी पंचायत जो अमर पाटन तहसील में आती है उसमें रहता है। उसके परिवार के ही सदस्य राम अवतार पांडे (Ram Avtar Pande) और उसके बेटे राजकुमार पांडे (Rajkumar Pande) और पूरन पांडे (Puran Pande) ने जमीन पर कब्जा (Satna Land Encroachment) कर लिया है। आरोपी परिवार पर पुलिस का दबाव डालकर सुलह भी कराई गई। हमने आरोपी परिवार को कुंए पर आने—जाने के लिए रास्ता भी दिया। लेकिन, अब वह ओर ज्यादा जमीन पर कब्जा करने की कोशिश कर रहे हैं।

हर दरवाजे पर मिले धक्के

रामलोचन पांडे अपनी जमीन जो कि पट्टे में मिली है उसको लेकर कलेक्टर, एसडीएम से लेकर थाना प्रभारी तक जा चुका है। इसके अलावा पीड़ित परिवार ने एसपी से भी शिकायत की है। हर शिकायत के बाद पुलिस ने धारा 151 के तहत कार्रवाई करके अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ लिया। विकास पांडे (Vikas Pande Case) का कहना है कि उसके छोटे—छोटे बच्चे है जिन्हें आरोपी परिवार मारने की धमकी देता है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: बिल्डर का दंपत्ति ने फावड़ा मारकर सिर फोड़ा

 

Don`t copy text!