मध्यप्रदेश : जिला न्यायाधीश और बेटे की मौत, रोटी खाना पड़ा भारी

Share

नागपुर में इलाज के दौरान हुई मौत

Mahendra Kumar Tripathi
न्यायाधीश महेंद्र कुमार त्रिपाठी, फाइल फोटो

बैतूल। मध्यप्रदेश के बैतूल में जिला अदालत के न्यायाधीश और उनके पुत्र की ‘फूड पॉइजनिंग’ के इलाज के दौरान नागपुर के एक अस्पताल में मौत हो गई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) श्रद्धा जोशी ने बताया कि बैतूल के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश महेंद्र त्रिपाठी (Mahendra Kumar Tripathi 56) की रविवार सुबह मृत्यु हुई जबकि उनके बेटे अभियानराज (33) की शनिवार रात को अस्पताल में मौत हो गई थी। एएसपी ने बताया कि न्यायाधीश और उनके बेटे ने 20 जुलाई को परिवार के साथ घर में भोजन किया। भोजन में त्रिपाठी और उनके पुत्र ने चपाती खायीं जबकि त्रिपाठी की पत्नी ने सिर्फ चावल खाये। न्यायाधीश और उनके बेटे को 23 जुलाई को बीमार होने के बाद स्थानीय पाढ़र अस्पताल में भर्ती कराया गया। शनिवार को उनकी हालत अधिक खराब होने पर दोनों को नागपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

आटे की होगी जांच

जोशी ने बताया कि जिस आटे से रोटियां बनाई गयीं थीं उस आटे का नमूना जांच के लिये भेजा जाएगा। विसरा की भी जांच की जायेगी। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम नागपुर में किया जाएगा तथा शवों को गृहनगर कटनी भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है।

वहीं सवाल उठ रहे है कि न्यायाधीश त्रिपाठी तो डायबिटीज और बीपी के मरीज थे लेकिन उनका बड़ा पुत्र किसी बाडी बिल्डर से कम नहीं था। ऐसे में सिर्फ फुड प्वाजनिंग से उसकी मौत किसी के गले नहीं उतर रही। एक तथ्य यह भी है कि मौत से पहले दोनों करीब ढाई दिन पाढ़र अस्पताल में उपचाररत रहे। इतने लंबे समय में फुड प्वाजनिंग जैसी बीमारी आमतौर पर कंट्रोल में आ जाती है। लेकिन इलाज के बाद भी स्थिति बिगड़ी और पाढ़र अस्पताल से जाने के कुछ घंटों के अंदर ही बाप-बेटे की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें:   Corona Effect: हड़ताल के खतरे को देखते हुए एस्मा लागू

यह भी पढ़ेंः सीएम शिवराज ने कोरोना का मजाक न बनाया होता तो बचे रहते

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!