Madhya Pradesh Fraud Case: दीपावली की एक रात पहले तांत्रिक ऐसा करते हैं, यकीन नहीं हैं तो खबर पढ़ लीजिए

Share

गड़ा धन निकालने तंत्र साधना कर रहे तांत्रिक समेत तीन लोगों को धार पुलिस ने दबोचा, तांत्रिक ने दिया था दो करोड़​ दिलाने का झांसा

Madhya Pradesh Fraud Case
धार में गिरफ्तार जालसाज पवन, तम्मू और मंगल पुलिस हिरासत में

धार। दीपावली से पहले तेरस के दिन तांत्रिक क्रिया (Witchcraft) की जाती है। यह बात पूर्व से आप सुनते आ रहे होंगे। आपको अब तक कोई सबूत नहीं मिला होगा। लेकिन, आपको अब यकीन हो जाएगा। क्योंकि पुलिस ने एक तांत्रिक को ऐसा करते हुए दबोच लिया है। मामला मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के धार (Dhar) जिले का है। पुलिस ने जालसाजी (Madhya Pradesh Fraud Case) के इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि एक व्यक्ति इस मामले में फरार है।
ऐसे खुला मामला
धार जिले के तिरला थाना क्षेत्र में रहने वाले मुन्नालाल सोलंकी ने इस मामले की शिकायत की थी। मुन्नालाल सब्जी का ठेला लगाता है। उसके भाई राजेन्द्र 10 साल पहले दुर्घटना में जख्मी हो गया था। उसके इलाज में मुन्ना कर्जदार बन गया। वह आर्थिक परेशानियों से जूझ रहा था। इसी दौरान उसकी मुलाकात खंडीगारा थाना कानवन निवासी पवन उर्फ रमेश से हुई। उसने कहा कि वह उसका कर्ज चुकता करा देगा। इसके लिए उसको तांत्रिक साधना (Witch Craft) करानी होगी। बदले में उसको दो लाख रुपए देने होंगे। एडवांस के रूप में उसने 50 हजार रुपए लिए। बाकी रकम गड़ा खजाना मिलने के बाद देने का सौदा तय किया गया।
यह थी योजना
पवन ने कुछ दिन पहले मुन्ना को नलावदा गांव बुलाया। यहां उसने अपने तीन अन्य साथियों (Tantrik) उज्जैन निवासी मंगल राव, रतलाम निवासी तम्मू रणावत और कानवन निवासी गोपाल प्रजापत से मुलाकात कराई। आरोपियों ने मुन्ना को बताया कि नलावदा गांव में भेरू मंदिर के पास खेत में एक खजाना (Wrought Treasure) दफन है। उसको निकालने में यह लोग मदद करेंगे। यहां करीब पांच किलो सोना—चांदी है। मुन्ना को धनतेरस वाले दिन उसी गांव में बुलाया गया। यहां गड़ा खजाना निकालने से पहले आरोपी डेढ़ लाख रुपए पहले मांगने लगे। लेकिन, मुन्ना ने इनकार कर दिया, उसने कहा कि पहले वह खजाना लेगा फिर वह रकम देगा। आरोपियों ने बिना रकम ऐसा करने से इनकार कर दिया। मुन्ना ने कहा कि उसे खजाना नहीं चाहिए। वह उनकी पहले ली गई 50 हजार रुपए की रकम लौटा दे। आरोपियों ने रकम देने की बजाय उन्हें धमकाते हुए भाग गए। जिसके बाद मुन्ना सीधे थाने पहुंचा।
पुलिस को यह है शक
आरोपियों ने डेढ़ लाख रुपए पूजा का सामान खरीदने के लिए मांगे थे। एसपी धार संजीव मूले ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ जालसाजी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस मामले में आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस को मौके से पूजा पाठ का सामान के अलावा आरोपियों के कब्जे से दो बाइक भी जब्त की गई है। पुलिस ने तीन आरोपियों पवन, तम्मू और मंगल को दबोच लिया है। इस मामले में गोपाल प्रजापत की तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: सड़क दुर्घटना में सिपाही की दर्दनाक मौत
Don`t copy text!