Ladli Behna Yojna: शिवराज सरकार की लाडली बैंक के कारण परेशान

Share

Ladli Behna Yojna: समूह लोन लेने वाली सैंकड़ों महिलाओं के गलत तरीके से आरबीएल बैंक में खोल दिए गए खाते, बैंक अपने यहां खुले खातों को नहीं कर रही बंद, डीबीटी कराने के बावजूद आरबीएल के खाते में डाली गई रकम

Ladli Behna Yojna
दिए गए नंबर पर संपर्क करें।

भोपाल। मध्यप्रदेश सरकार की चर्चित योजना लाडली बहना के हितग्राहियों को चक्कर काटना पड़ रहे हैं। मामला भोपाल (Ladli Behna Yojna) शहर के आरबीएल बैंक से जुड़ा है। इस बैंक में सैंकड़ों महिलाओं के खाते खोले गए हैं। अधिकांश हितग्राहियों का आरोप है कि यह उनकी बिना अनुमति के खोले गए। महिलाओं ने तराशना समूह (Tarashna Samuh) से लोन लिया था। यह लोन राशि नकद दी गई थी। लेकिन, उसी तराशना की आड़ में लोन लेने वाली महिलाओं के खाते आरबीएल में खोल दिए गए।

बैंक प्रबंधन की तरफ से नहीं आया कोई जवाब

एमपी नगर स्थित आकांक्षा काम्पलेक्स (Akansha Complex) के आरबीएल बैंक (RBL Bank) में कई दिनों से महिलाएं परेशान होकर अपनी एक हजार रूपए की राशि लेने के लिए परेशान हो रही है। पिछले महीने बैंक ने कई हितग्राहियों को दो—दो रूपए के सिक्के बांटकर परेशान किया था। उस वक्त भी हितग्राहियों ने अपना बैंक खाता बंद करने के लिए फार्म भर दिया था। इसके बावजूद खाता बंद नहीं किया गया। नतीजतन दूसरी किस्त भी उसी बैंक के खाते में आ गई। इस कारण एक ​बार फिर हितग्राहियों को चक्कर काटना पड़ रहे हैं। कंचन गुप्ता (Kanchan Gupta) ने बताया कि वह एक सप्ताह से चक्कर काट रही हैं। वहीं रीना गिरी (Reena Giri) ने बताया कि कई लोग राजगढ़ से आते हैं। जिन्हें आने—जाने में ही पांच सौ रूपए का किराया देना पड़ता है। परेशान हितग्राही लक्ष्मी बाई (Laxmi Bai) ने बताया कि सरकार लाडली बहना की सुध ही नहीं ले रही। वह केवल घोषणा करके अपनी मार्केटिंग कर रही है। जबकि मैदानी हकीकत को लेकर सीएम हेल्प लाइन (CM Help Line) में भी शिकायत की जा चुकी है। इन आरोपों को लेकर आरबीएल बैंक प्रबंधन से प्रतिक्रिया लेने का प्रयास किया गया। लेकिन, काफी प्रयासों के बावजूद संपर्क नहीं हो सका।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Ladli Behna Yojna
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Covid—19 Effect: पुलिस के खुफिया विंग की बदली कार्य प्रणाली
Don`t copy text!