Bhopal Property Fraud: एलएनसीटी ग्रुप के सीएमडी से चौदह करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा 

Share

Bhopal Property Fraud: आदमपुर छावनी में स्थित 28 एकड़ जमीन खरीदने को लेकर सौदा करके रकम लेने के बाद फरार हो गया था जालसाज, कई अन्य थानों में दर्ज है पहले से मुकदमे

Bhopal Property Fraud
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। एलएनसीटी ग्रुप के सीएमडी से चौदह करोड़ रुपए का फर्जीवाड़ा किया गया। इस मामले की एफआईआर दो महीने पहले गुपचुप तरीके से दर्ज कर ली गई थी। यह बात मीडिया में तब उजागर हुई जब उस मामले का आरोपी मुंबई से गिरफ्तार किया गया। उसे हनुमानगंज थाना पुलिस ने मुंबई एयरपोर्ट से दबोचा है। आरोपी ने 28 एकड़ जमीन (Bhopal Property Fraud) बेचने के लिए 14 करोड़ रुपए का सौदा किया था। पुलिस ने उसका खाता फ्रीज कराकर एक करोड़ रुपए भी सीज करा दिए हैं।

केस डायरी एक से दूसरे थाने को भेजी गई

भोपाल पुलिस की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार इस मामले की एफआईआर 09 अप्रैल को जयनारायण चौकसे (Jainarayan Chauksey) की तरफ से श्यामला हिल्स (Shyamla Hills) थाने में दर्ज कराई गई थी। इसमें 71/24 धारा 420/406 (जालसाजी और गबन का प्रकरण) दर्ज किया गया था। इस मामले में आरोपी मोहम्मद सरवर खान (Mohammed Sarwar Khan) पिता स्व. अनवर खान उम्र 41 साल था। वह इतवारा रोड आजाद मार्केट (Azad Market) में रहता था। उसकी गिरफ्तारी के श्यामला हिल्स की तरफ से प्रयास किए गए। लेकिन, पर्याप्त बल और सीएम हाउस वाला थाना होने के चलते देरी हो रही थी। जिसकी शिकायत आला अधिकारियों से की गई थी। इसलिए गिरफ्तारी और अगली विवेचना का टारगेट हनुमानगंज (Hanumanganj) थाना प्रभारी अवधेश सिंह भदौरिया (TI Awadhesh Singh Bhadauriya) को दिया गया। आरोपी के मोबाईल नंबरों की कॉल डिटेल खंगाली गई तो उसकी मुंबई (Mumbai) की लोकेशन पता चली। इसी दौरान पता चला कि मोहम्मद सरवर छत्रपति शिवाजी टर्मिनल मुम्बई से विदेश जाने की फिराक में हैं। आरोपी के बैंक खातों की जानकारी लेने पर आरोपी के खाते में एक करोड़ रूपये होने की जानकारी मिली। जिसे पुलिस ने सीज करा दिया है। गिरफ्तारी और धरपकड़ में उनि अमित भदौरिया, आर 3476 गौतम सिकरवार और आर 3485 जितेन्द्र रजावत की सराहनीय भूमिका रही।

यह है वह जमीन जिसको लेकर किया गया था अनुबंध

मोहम्मद सरवर खान के खिलाफ यह पहला मुकदमा नहीं है। इससे पहले उसके खिलाफ कोहेफिजा थाना पुलिस ने 583/20 जालसाजी का प्रकरण दर्ज किया था। इसके अलावा कोहेफिजा थाने में ही 2011 में मारपीट का एक प्रकरण 544 भी दर्ज है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी मोहम्मद सरवर खान की आदमपुर छावनी(Adampur Chhavni)  में करीब 28 एकड़ से अधिक जमीन है। इसी जमीन की खरीदी—​बिक्री के लिए तीन साल पहले जय नारायण चौकसे ने डील की थी। जिसके तहत उसको जमीन की रजिस्ट्री करानी थी। इसके बदले में व​ह किस्तों में करीब चौदह करोड़ रुपए भी ले चुका था। लेकिन, वह रजिस्ट्री कराने से बच रहा था। जय नारायण चौकसे का भोपाल शहर के कोलार रोड में जेके अस्पताल (JK Hospital) भी है। इसके अलावा उनका रायसेन रोड पर एलएनसीटी कॉलेज (LNCT College) भी  है। जेके अस्पताल का नाम व्यापमं घोटाले में भी सामने आया था।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Property Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: राजधानी में बंधक बनाकर बलात्कार 
Don`t copy text!