PM Housing Scheme Fraud: बीडीए की हाई प्रोफाइल मल्टी को पीएम स्कीम हाउस बताकर धोखाधड़ी

Share

PM Housing Scheme Fraud: पुलिस अफसरों ने जालसाज को पक्ष रखने फोन लगाया तो उच्च अधिकारियों को कर दी झूठी शिकायतें, कभी नेता तो कभी पत्रकार बताकर रसूख के नाम पर धमकाता रहा

PM Housing Scheme Fraud
जहांगीराबाद थाना, जिला भोपाल—फाईल फोटो

भोपाल। पीएम हाउसिंग स्कीम में हाईराइज हाई प्रोफाइल मल्टी को दिखाकर कई लोगों से बुकिंग अमाउंट के नाम पर पैसे ऐंठ लिए गए। यह घटना भोपाल (PM Housing Scheme Fraud) शहर के जहांगीराबाद इलाके की है। इस मामले का आरोपी बेहद चालाक है। वह पहले भी जालसाजी की घटनाओं को अंजाम दे चुका है। इस बात से पीड़ित बेखबर थे और उसकी बातों में आ गए। आरोपी झांसा देकर उन्हें बीडीए की बरखेड़ी में निर्माणाधीन मल्टी में ले जाकर फ्लैट पसंद करने को बोलता था। लेकिन, समय बीत जाने के बावजूद न फ्लैट की बुकिंग हुई और न ही रकम मिली। इस कारण चाचा—भतीेजे समेत पांच पीड़ित थाने पहुंचे और मुकदमा दर्ज कराया।

चाय पे चर्चा करते हुए झांसे में लिया

जहांगीराबाद थाना पुलिस के अनुसार इस मामले की शिकायत रिषभ सेन पिता राजू सेन उम्र 26 साल ने दर्ज कराई। वह जागृति कॉलोनी ऐशबाग इलाके में रहता है। रिषभ सेन (Rishabh Sen) ने पुलिस को बताया कि वह ट्रैवल्स कंपनी में ड्रायवरी का काम करता है। कंपनी की कार अमरकंटक भवन में अटैच थी। उसकी अगस्त, 2022 में आरोपी शानू उर्फ जिशान रहमान पिता हिफजुर रहमान उर्फ छोटे मियां मिला। उसने बताया कि वह प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas Yojna) के तहत मकान दिलाने का काम करता है। कोई जरूरतमंद हो तो उसने नंबर देकर बातचीत करने बोला। रिषभ सेन के मन में लालच आया और वह अपने चाचा जीवन सेन (Jeevan Sen) के साथ मकान देखने पहुंच गया। उसे बरखेड़ी स्थित निर्माणाधीन बीडीए की मल्टी ले गया। यहां तीसरी मंजिल में फ्लैट खाली होने का बोलकर बुकिंग अमाउंट 11 हजार से लेकर 15 हजार रूपए लिए। इसके बाद वह यह कहने लगा कि यह आवेदन में खर्च हो जाएंगे। बाकी रकम 20 हजार रूपए वह मांगने लगा।

यह बोलकर दूसरे लोगों को भी घेरा

PM Housing Scheme Fraud
ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

रिषभ सेन ने बताया कि ऐसा ही बोलकर मेरे परिचित सत्येन्द्र परिहार (Satyendra Parihar) और अशोक पटवा (Ashok Patwa) से भी पैसे ऐंठ लिए। काफी दिनों तक जब आवंटन नहीं हुआ तो उसे फोन लगाया गया। वह कामों में व्यस्त बताकर यहां—वहां करता रहा। इसके बाद परेशान होकर पीड़ितों ने पुलिस से मदद मांगी। पुलिस (PM Housing Scheme Fraud) ने जिशान रहमान (Zishan Rehman) को फोन लगाया तो वह अपने आपको एक राष्ट्रीय पार्टी का कार्यकर्ता बताकर धमकाने लगा। फिर वह अपने आपको पत्रकार बताकर पुलिस को धमकाने लगा। जबकि पुलिस ने उसे पक्ष रखने के लिए थाने में बुलाया। जब वह नहीं आया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाने लगी। यह पता चलते ही जालसाज ने एक अधिकारी के खिलाफ उच्च अधिकारियों से झूठी शिकायत कर दी। जिसके बाद यह पूरा फर्जीवाड़ा उजागर हुआ और प्रकरण 23/23 धारा 420 जालसाजी का मामला दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: धागा कंपनी की कर्मचारी से टेलर ने किया बलात्कार

खबर के लिए ऐसे जुड़े

PM Housing Scheme Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!