Bhopal Cheating Case: जेल के भीतर रहकर जालसाजी का कारनामा

Share

बेटे को छुड़ाने जेल के सामने मां किस्त बांटती रही, जालसाजी का राज खुला तो थाने पहुंचकर दर्ज कराया मामला

Bhopal jailभोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) बदमाश कहीं भी रहे वह अपनी आदतों से बाज नहीं आता है। मामला मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) में स्थित सेंट्रल जेल से जुड़ा है। यहां एक जालसाज (Bhopal Fraud Case) ने एक महिला को झांसा देकर करीब एक लाख रुपए ऐंठ लिए। महिला जेल में अपने बेटे से मिलने आती थी। बेटा बलात्कार के मामले में बंद हैं। जालसाज (Bhopal Cheating Case) उसको जेल से बाहर निकालने का दावा करके किस्त में पैसा ऐंठ रहा था। इस बात की शिकायत पीड़िता ने पुलिस से की तो आरोपी के खिलाफ पुलिस ने जालसाजी का प्रकरण दर्ज कर लिया।

गांधी नगर पुलिस ने www.thecrimeinfo.com (द क्राइम इंफो डॉट कॉम) को बताया कि पचौर तलैन जिला राजगढ़ निवासी लीलावती बाई (Leelavati Bai) पति सुरेश कुमार(60) गृहणी हैं। उनका बेटा मोर सिंह एक नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में पिछले नौ माह से सेंट्रल जेल भोपाल में बंद है। उसके खिलाफ थाना तलैन जिला राजगढ़ में केस दर्ज है। मई, 2019 में मोर सिंह (Mor Singh) की मुलाकात गोविंद सिंह राजपूत (Govind Singh Rajput) नाम के व्यक्ति से हुई थी। वह भी किसी आपराधिक मामले में जेल में बंद था। जेल में साथ रहने के दौरान गोविंद सिंह ने मोर सिंह को बताया था कि उसकी यहां के वकीलों से अच्छी पहचान है। वह चाहे तो उसकी जमानत करा सकता है। यह बात मोर सिंह ने अपनी मां को बताई थी। इसी बीच गोविंद सिंह की जमानत हो गई। वह 24 मई, 2019 को मोर सिंह की मां लीलावती से मिला और जमानत कराने के नाम पर 40 हजार रुपए ले लिए।
यह भी पढ़ें: दिलीप बिल्डकॉन का वह हाई प्रोफाइल मामला जिसकी जांच करने में थाना पुलिस फिसड्डी साबित हुई तो इसको सौंप दी
इसके बाद उसके कहने पर महिला ने 56 हजार रूपए खाते में ट्रांसफर कराए थे। पैसा मिलने के बाद गोविंद सिंह ने मोर सिंह की जमानत नहीं कराई। जब भी महिला उसे अपने बेटे की जमानत के बारे में बात करती तो वह टाल जाता था। आरोपी ने नौ माह तक महिला के बेटे की जमानत नहीं कराई। इससे तंग आकर महिला ने निशातपुरा थाना पहुंचकर लिखित शिकायत की थी। जिसकी जांच के बाद पुलिस ने गुरुवार को शून्य पर केस दर्ज कर डायरी गांधी नगर थाना को भेजी। यहां पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस सेंट्रल जेल व बैंक खाते के आधार पर आरोपी का पता लगाने का प्रयास कर रही है। अब तक की जांच में पता चला है कि आरोपी निशातपुरा करोंद का रहने वाला है।
यह भी पढ़ें: पुलिस अफसरों को भी यकीन नहीं हुआ कि जालसाज गिरोह का मास्टर माइंड पुलिस ​से बर्खास्त हुआ सिपाही निकला

यह भी पढ़ें:   Bhopal Molestation Case: चाउमीन मंगाया फिर कमरे में बुरे इरादे से दबोचा

अपील
www.thecrimeinfo.com विज्ञापन रहित दबाव की पत्रकारिता को आगे बढ़ाते हुए काम कर रहा है। हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। इसलिए हमारे फेसबुक पेज www.thecrimeinfo.com के पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!