Bhopal Cheating Case : नौकरी चाहिए तो फॉर्म भरिए!

Share

Bhopal Cheating Case : बेरोजगार युवाओं को यह बोलकर ले लिए लाखों रुपए

Bhopal Cheating Case
कमला नगर थाने में गिरफ्तार जालसाज राजनारायण भारद्वाज

भोपाल। यदि आप नौकरी की तलाश में हैं तो यह समाचार (Bhopal Cheating Case) पहले पढ़ लीजिए। दरअसल, “आपदा में अवसर” की तलाश कई तरह के जालसाज (Bhopal Fraud Case) भी कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश (MP Crime News) की राजधानी भोपाल (Bhopal Crime News) से सामने आया है। यहां की कमला नगर थाना पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया है। जालसाज ने दर्जनों युवाओं को नौकरी दिलाने (Bhopal Job Fraud Case) के नाम पर फॉर्म भरवाए थे। इसके बदले में उसने रकम ली थी। यह रकम एनजीओ (Bhopal Fake NGO Case) के लिए सर्वे करने के नाम पर लिए थे।

कांग्रेस के निशाने पर रहा एनजीओ का नाम

कमला नगर थाना पुलिस ने 04 जुलाई को जालसाजी का मुकदमा (Bhopal Fraud Case) दर्ज किया था। इस मुकदमे में आरोपी राजनारायण भारद्वाज (Rajnarayan Bhardwaj) है। पुलिस ने राजनारायण भारद्वाज (Cheater Rajnarayan Bhardwaj) को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी स्वयं को जन अभियान परिषद (Fake Jan Abhiyan Parishad) का अध्यक्ष होने का दावा करता था। यह संस्था मध्य प्रदेश की राजनीति (MP Political News) में विपक्षी पार्टी कांग्रेस के निशाने पर रही है। संस्था को आरएसएस से जुड़ी बताकर पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ (EX CM Kamal Nath), दिग्विजय सिंह (EX CM Digvijay Singh) बयान देते रहे हैं। जब कांग्रेस की सरकार बनी थी तब यहां के कर्मचारियों को हटाने की कार्रवाई भी शुरु की गई थी।

यह भी पढ़ें : शाम को मुख्यमंत्री ने कानून व्यवस्था को लेकर चिंता जताई रात को थानों वालों ने उसकी हवा निकाल दी

यह भी पढ़ें:   ऐसे फोल्ड करके लाता था हथियार मानो मोबाइल हाथ में रखा हो

इसलिए खड़े हुए कान

मामले की शिकायत बालाघाट निवासी अजीत कुमार चौधरी (Ajit Kumar Choudhry) ने की थी। उसके साथ एक दर्जन से अधिक युवा भी थे। चौधरी नौकरी के सिलसिले में भोपाल आता—जाता था। तभी उसकी मुलाकात राजनारायण भारद्वाज से हुई थी। आरोपी ने अजीत से जन अभियान परिषद (Jan Abhiyan Parishad) के चलने वाले सर्वे में नौकरी दिलाने के नाम पर 1850 रुपए यह बोलकर जमा कराए थे कि यह फॉर्म है। इसके बाद उसको काम के बदले में वेतन नहीं मिला। जब मांगा गया तो कहा गया कि एनजीओ की दूसरी स्कीम है। इसमें 50 हजार की एफडी जमा करानी होगी। झांसे में आने पर एफडी भी युवा देने जा रहे थे।

इतने लोगों को ठगा

पुलिस ने राजनारायण भारद्वाज को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी का दावा था कि एनजीओ जैविक खेती और ग्रामीण योजनाओं में लोगों को मदद पहुंचाने का काम करती है। इस झांसे में आकर आरोपी ने करीब 93 लोगों को चूना लगाया था। पुलिस आरोपी के खातों की जानकारी भी जुटा रही है। पुलिस का दावा है कि उसके झांसे में आए वास्तविक बेरोजगारों की संख्या ज्यादा हो सकती है। इसलिए उससे पूछताछ की जा रही है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Honor Killing News: धरना और हंगामा नहीं करते तो उजागर नहीं होता राज

 

Don`t copy text!