Corona संकट पर सीएम शिवराज ने 16 मिनट में की ये 12 बड़ी बातें

लोगों को राहत पहुंचाने के लिए कदम उठा रही सरकार

शिवराज सिंंह चौहान, मुख्यमंत्री, फाइल फोटो

भोपाल। CM Shivraj Singh Chouhan on Coronavirus देशभर में कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए शासन-प्रशासन तमाम कदम उठा रहा है। पीएम मोदी ने बुधवार से 21 दिन तक का लॉकडाउन लागू कर दिया है। जिसके बाद सबसे बड़ा सवाल उठ रहा है कि रोज कमाने वालों के साथ क्या होगा। उनके खाने व अन्य व्यवस्थाएं कैसे होगी। इलाज कैसे हो पाएगा। साथ ही किसानों की खड़ी फसलों का क्या होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 8 बजे दिए संदेश में इन्हीं सवालों का जवाब दिया है। पढ़िए क्या कहा सीएम ने।

1- कोरोना के मरीज का इलाज सरकारी या प्रायवेट अस्पताल में फ्री में होगा। सरकार खर्च उठाएगी।

2- दवा, दूध, किराना, सब्जी की दुकाने खुली रहेंगी। लेकिन आवश्यक होने पर 1 ही व्यक्ति घर से निकले।

3- राजनीतिक या धार्मिक आयोजन न हो। घर पर ही मां की आराधना करें।

4- सर्दी, जुकाम, बुखार होने पर 104, 181 पर सूचित करें। दवाएं घर पहुंचाई जाएंगी।

5- छात्रावास में रहने वाले छात्र-छात्राएं कहीं न जाए। उनके भोजन की व्यवस्था प्रशासन करेगा।

6- गरीब-असहाय लोगों को भोजन के पैकेट्स भेजे जाएंगे, लोगों को हेल्पलाइन नंबर 104 या 181 पर  सूचना देनी होगी।

7- गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को एक महीने का राशन फ्री दिया जाएगा।

8- हार्वेस्टर वालों को प्रदेश में आने से नहीं रोका जाएगा, उनकी जांच जरूर होगी।

9- गेहूं खरीदी के लिए जल्द ही दिशा-निर्देश जारी होंगे।

10- पेंशन धारी बुजुर्ग और विधवाओं के खातों में दो महीने की पेंशन भेजी जाएगी।

यह भी पढ़ें:   भाई के कारण टीआई पीएचक्यू अटैच

11- अत्यंत गरीब सहरिया, बैगा आदि आदिवासी जाति के लोगों तक 2 हजार रुपए पहुंचाएं जाएंगे।

12- मध्यान्ह भोजन का पैसा भी छात्र-छात्राओं के खातों में ट्रांसफर किया जा रहा है। कुल 156 करोड़ रुपए दिए जाएंगे।

सीएम ने दी दो चेतावनी

डॉक्टर्स या स्वास्थ्य अमले के साथ बदसलूकी करने वालों को मुख्यमंत्री ने चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि कुछ घटनाएं सामने आई है। जहां डॉक्टर्स या स्वास्थ्य अमले के साथ मकान मालिकों ने बदसलूकी की है। ऐसी घटनाओं में आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

वहीं कालाबाजारी करने वालों को भी सीएम ने हिदायत दी है। मूल्य बढ़ाकर सामान बेचने वालों पर कार्रवाई की बात कही है।

Don`t copy text!