Bhopal Cyber Fraud: पीएचक्यू के डीआईजी के ड्रायवर के साथ सायबर फ्रॉड

Share

Bhopal Cyber Fraud: एसबीआई बैंक की अपडेट करने लिंक भेजकर तीन किस्त में निकाल लिए 86 हजार रूपए, एक महीने बाद दर्ज हुआ मुकदमा

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। पुलिस मुख्यालय में तैनात एक डीआईजी के ड्रायवर का बैंक खाता जालसाजों ने खाली कर दिया। यह घटना एक महीने पहले हुई थी। जिसकी प्राथमिक जांच भोपाल सायबर क्राइम ब्रांच (Bhopal Cyber Fraud) ने की थी। जांच पूरी करने के बाद केस डायरी भोपाल शहर के अवधपुरी थाने को एफआईआर के लिए भेजी गई। जालसाजों ने एक लिंक एसबीआई योनो की केवायसी कराने के लिए भेजी थी।

डीसीपी क्राइम ब्रांच से की थी शिकायत

अवधपुरी थाना पुलिस के अनुसार यह वारदात 27 नवंबर की दोपहर लगभग दो बजे हुई थी। शिकायत उसी दिन जितेंद्र सिंह राठौर पिता कमलेश सिंह राठौर उम्र 28 साल ने दर्ज कराई। वे अवधपुरी स्थित अनुपम नगर फेज—2 में निवास करते हैं। इसके अलावा वे दतिया जिले में स्थित 29वीं वाहिनी में सिपाही भी हैं। फिलहाल वे पुलिस मुख्यालय में डीआईजी एमएल छारी (DIG ML Chhari) का वाहन चला रहे हैं। उन्होंने आवेदन डीसीपी क्राइम ब्रांच अमित सिंह (DCP Amit Singh) को दिया था। जांच में जितेंद्र सिंह राठौर (Jitendra Singh Rathore) ने बताया कि लिंक पर क्लिक करते ही पहली बार 9900 रूपए कट गए थे। इसके बाद एक मोबाइल नंबर से कॉल आया था। उसने रकम रिफंड के लिए एक एप डाउनलोड कराया। यह डाउनलोड करते ही कुछ देर के लिए मोबाइल हेंग हुआ। इसके बाद उनके खाते से दो अन्य किस्त 51 हजार और 25 हजार रूपए निकल गए। अवधपुरी थाना पुलिस ने एसीपी क्राइम ब्रांच से आई केस डायरी के बाद 23 नवंबर को 282/22 धारा 420 जालसाजी का मामला दर्ज कर लिया है।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: युवती समेत तीन लोगों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत
Don`t copy text!