Bhopal Suicide Case: मां के आँचल को बनाया मौत का सामान

Share

Bhopal Suicide Case: परिवार का आरोप दोस्त की वजह से लगाई फांसी

Bhopal Suicide Case
मृतक ​दीपक धाकड़

भोपाल। (Bhopal Crime News In Hindi) मां ने सोचा भी नहीं होगा कि जिस आँचल से बेटे के आँसू उसने पौंछे वह उसको गले में लगा लेगा। घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Suicide Case) की है। हालांकि परिवार का आरोप है कि उसकी मौत का जिम्मेदार उसका (Bhopal Crime News) दोस्त है। घटना स्थल से पुलिस को किसी तरह का कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ। पुलिस ने शव पीएम के लिए अस्पताल भेज दिया है। पीएम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई पुलिस करेगी।

पांचवी तक की थी पढ़ाई

छोला मंदिर थाना पुलिस ने बताया कि दीपक धाकड़ (Deepak Dhakad) पिता चंदन सिंह धाकड़ उम्र 18 साल निवासी शिव शक्ति नगर में रहता था। चंदन के चार बच्चे है। दीपक सबसे बड़ा था। उससे छोटी दो बहने और एक भाई है। उसने कक्षा पांचवी तक पढ़ाई की थी। जिसके बाद घर के हालात ऐसे बने की उसको पढ़ाई छोड़ना पड़ी। वह पिता के साथ सब्जी मंड़ी में हम्माली का काम करने लगा।

यह भी पढ़ें: पिता को लिखी चिट्ठी, पड़ोसी की छत पर मिला शव

दोस्त पर लगाया पिता ने आरोप

चंदन ने बताया दीपक को पिछले महीने 19 हजार का मोबाइल किस्त पर दिलाया था। जिसकी पहली किस्त 16 अगस्त को जानी थी। उसके मोहल्ले में दीपक कुर्मी (Deepak Kurmi) नाम का लड़का रहता है। उसके साथ दीपक की अच्छी दोस्ती थी। वह भी मंड़ी में साथ में हम्मली का काम करता था। दिन में शायद ही एक—दूसरे से दो—तीन घंटे दूर होते होंगे। दस—बारह दिन पहले ही दीपक कुर्मी ने उसका फोन किसी दुकान पर आठ हजार रूपयों में गिरवी रख दिया था। चंदन को यह बात भी उसके दोस्त ने ही बताई थी। कारण पूछने पर बोला वह जल्द ही पैसे देकर मोबाइल ले आएगा। परिजनों का आरोप है कि उसकी मौत के पीछे दीपक का हाथ है। उसने ही उसे प्रताड़ित किया होगा। इसी कारण उसने इतना बड़ा कदम उठाया है।

यह भी पढ़ें:   Bhopal ATM Cheating Case: लॉक डाउन के पहले हुई वारदात, एफआईआर दर्ज कराने आया पसीना

बहन ने शोर मचाया था

चंदन ने बताया कि मंगलवाल रात 11—12 बजे सभी ने घर पर खाना खाया और सोने चले गए। एक कमरे में मां दोनों बहने और दीपक थे। वहीं दूसरे कमरे में चंदन उसके छोटे बेटे के साथ सोया था। बुधवार सुबह 4:30 बजे बहन सोनम की नींद खुली तो दीपक मां की साड़ी का फंदा बनाकर पंखे से लटका था। उसके शोर मचाने पर घर के बाकी लोगों की नींद खुली थी। उसे फंदे से उतारा तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!