Bhopal Stolen Case: लड़के की मन्नत मांगी गायब हुई कान की बाली

Share

Bhopal Stolen Case: थाने पहुंची पीड़िता हुई एफआईआर में भी धोखे का शिकार

Bhopal Stolen Case
सांकेतिक चित्र

भोपाल। बार—बार लड़कियां होने से एक महिला परेशान (Bhopal Crime News In Hindi) थी। उसको एक लड़का भी हुआ। लेकिन, वह किन्ही कारणों से चल बसा। उसको लगता था कि मन्नत मांगने से उसका यह संकट दूर हो जाएगा। ऐसा होना तो दूर वह महिला दूसरे संकट में फंस (Bhopal Crime Against Woman) गई। घटना मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की है। पीड़िता पहले घर में शिकार बनी। उसे लगा थाने में उसको न्याय मिलेगा। हालांकि वहां भी महिला धोखे (Bhopal Stolen Case) का शिकार हुई। पुलिस ने इस बड़ी घटना में सादा चोरी (Bhopal Theft Case) का मुकदमा दर्ज किया है।

करती थी टोटके काम नहीं आए

मिसरोद थाना पुलिस ने बताया कि रीना चौकसे (Reena Chouksey) पति मनोज चौकसे उम्र 34 साल निवासी पटेल मार्केट बंगरसिया में रहती है। मनोज पुताई का काम करता है। वहीं रीना की कपड़ों की दुकान है। जिसे वह संभालती है। रीना की बेटियां है। उसका बेटा भी हुआ था। किन्ही कारणों से वह खत्म हो गया था। उसके बाद से उसे बेटे की चाह थी। इसकी मन्नत के लिए उसने काफी पूजा पाठ कराई थी। लेकिन उसका कोई असर नहीं हुआ। वह बेटे की चाहत में कोई भी जोखिम उठाने को तैयार थी।

चावल के डिब्बे से शुरु हुआ खेल

रीना ने बताया कि गुरूवार सुबह करीब 10 बजे उसके घर पर मांगने वाली आई थी। रीना ने उसे पैसे देकर जाने के लिए बोला। महिला ने उसे आशीर्वाद देकर आगे जाने लगी तो रीना ने बोला माता जी आप उसे बेटे होने का आशीर्वाद (Bhopal Mannat Stolen Case) दो। तभी महिला ने बोला तू एक चावल का डिब्बा लेकर आ। फिर उसने उसकी पहनी हुई सोने के टॉप्स रखने के लिए बोला। रीना ने प्लास्टिक के डिब्बे में दोनों टॉप्स उतारकर बेटे की मन्नत मांगते (Bhopal Mannat News) हुए रख दिए। महिला ने बोला डिब्बा तुम शाम को खोलकर टॉप्स वापस पहन लेना।

यह भी पढ़ें:   TCI Impact News: जिस एफआईआर में लापरवाही, अब उसमें बलात्कार का मुकदमा

थाने में ऐसा हुआ

महिला ने उसे जाते—जाते बोला अंदर से आटा लेकर आ जाओ। वह आटा लेकर आई तो महिला तब तक चली गई। रीना ने शाम होते ही डिब्बा खोलकर देखा तो डिब्बे में कुछ नहीं था। थाने पहुंचने पर पुलिस ने धारा 379 सादा चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया है। जबकि मामला जालसाजी से जुड़ा था। महिला इस मामले में धारा से बेखबर थी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!