Bhopal Cyber Fraud: कोविड राहत राशि दिलाने के नाम पर फर्जीवाड़ा

Share

Bhopal Cyber Fraud: आठवीं पास शातिर जालसाज सरकारी मद में रकम दिलाने का देते थे झांसा, तीन आरोपियों को क्राइम ब्रांच ने दबोचा

Bhopal Cyber Fraud
सांकेतिक ग्राफिक डिजाइन टीसीआई

भोपाल। कोविड—19 में परिवार के सदस्यों को खोने वाले लोगों को निशाना बनाकर एक गिरोह फर्जीवाड़ा कर रहा था। यह गिरोह उन परिवारों को सरकार से मिलने वाली अनुदान राशि दिलाने के नाम पर खाते से रकम निकाल लेता था। जिसके संबंध में भोपाल (Bhopal Cyber Fraud) क्राइम ब्रांच मामले की जांच कर रही थी। इस जांच के बाद पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

यहां से की गई गिरफ्तारी

भोपाल पुलिस की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार इस संबंध में सुनील कुमार लोधी (Sunil Kumar Lodhi) ने 28 मार्च, 2022 को प्रकरण दर्ज कराया था। कोविड—19 के दौरान उसके छोटे भाई राजेश लोधी (Rajesh Lodhi) की मौत हो ई थी। उसकी ही अनुदान राशि के लिए सुनील कुमार लोधी ने आवेदन किया था। उसके पास एक फोन आया था। जिसने दस्तावेज वेरिफिकेशन करने के नाम पर फोनपे के जरिए 98,810 रूपए खाते निकाल लिए थे। पुलिस ने इस मामले में 99/2022 धारा 419/420 (दस्तावेजों की कूटरचना और जालसाजी) का मामला दर्ज किया था। इसी जांच के बाद पुलिस ने निवाडी जिला निवासी राजेन्द्र उर्फ घनेन्द्र यादव ([email protected] Yadav), हुकुम यादव (Hukum Yadav)

यूक्रेन में महिला हिंसा की वह दास्तां जो दुश्मनी की वजह से रूसी सैनिकों के निशाने पर आईं

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal Cyber Fraud
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal News: पत्नी की साड़ी से लटकी मिली पति की लाश
Don`t copy text!