Bhopal Court News: ज्यादती के आरोपी सूबेदार ने अदालत में किया समर्पण

Share

Bhopal Court News: जिला अदालत ने न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा

Bhopal Court News
समर्पण के बाद जिला अदालत में विजेन्द्र पाठक

भोपाल। मिलेट्री टेनिंग सेन्‍टर सिकंदराबाद में पदस्थ सूबेदार विजेन्द्र पाठक (Subedar Vijendra Pathak) ने भोपाल जिला अदालत में समर्पण (Bhopal Court News) किया। इस संबंध में मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal Rape Case) के निशातपुरा इलाके में मुकदमा दर्ज था। न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी आशीष परसाई (Justice Ashish Parsai) ने आरोपी को जेल भेजने के आदेश दिए हैं। इधर, निशातपुरा पुलिस ने आरोपी के डीएनए जांच के लिए अदालत में आवेदन लगाया है। आरोपी को फिलहाल दो दिन के लिए जेल भेजा गया है।

लिफ्ट देने पर हुई थी पहचान

थाना पुलिस की तरफ से अदालत में दलीलें मनोज त्रिपाठी (Manoj Tripathi) ने पेश की थी। घटना मार्च, 2020 की है। पीड़िता ने बताया था कि आरोपी विजेन्द्र पाठक से उसकी मुलाकात जनवरी, 2016 में हुई थी। आरोपी विजेन्‍द्र पाठक पुत्र साधुराम पाठक सीएफएन (सिपाही) के पद पर कार्यरत था। वह पीड़िता के घर के पास किसी काम से आया था। पीडिता को अपने मुकदमे की पैरवी हेतु न्‍यायालय जाने के लिये आरोपी की स्‍कूटी से लिफ्ट लिया था। जब आरोपी ने पीडिता को उतारा तो पीडिता का मोबाइल नंबर मांगा। आरोपी भारतीय सेना (Indian Army Officer News) में होने के कारण उसने नम्‍बर दे दिया था।

शादी करने का दिया झांसा

Bhopal Court News
सांकेतिक चित्र

आरोपी विजेन्द्र पाठक ने 2-3 दिन बाद फोन कर दोस्‍ती का ऑफर दिया। दोनों के बीच मुलाकात भी होने लगी। आरोपी ने पीड़िता को शादी का झांसा दिया था। पीड़िता वर्ष 2018 से गांधी नगर भोपाल में आरोपी के साथ रहने लगी। इसी बीच आरोपी एक बार पीड़िता को शादी की बात करने बहाने होटल राजवंश (Hotel Rajvansh) लेकर गया। वहां उसके साथ शारीरिक संबंध (Nishatpura Rape Case) बनाए थे। लेकिन, बाद में शादी करने की बात करने पर आरोपी मुकरने लगा। पीडिता ने एक पुत्री को भी चिरायु अस्पताल (Chirayu Hospital) में जन्म दिया है। यह पुत्री विजेन्द्र पाठक की है।

यह भी पढ़ें:   महिला का नहाते हुए वीडियो बनाते पकड़ाया इंजीनियरिंग का छात्र

यह भी पढ़ें: हुस्न के जाल में लोग फंसते चले गए और मुश्किलें पुलिस की बढ़ती गई, जानिए क्यों

शादी को अदालत ने किया नामंजूर

आरोपी विजेन्द्र पाठक ने फरवरी, 2020 में आखिरी बार पीड़िता से मुलाकात की थी। उस वक्त भी उसने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए थे। आरोपी उत्‍तरप्रदेश (Uttar Pradesh) का रहने वाला है और फिलहाल ईएमई सेन्‍टर ट्रेनिंग बटालियन सिकंदराबाद (Sikandarabad) में तैनात है। विजेन्द्र ने पहले ही शादी कर ली थी जिसको अदालत ने 2018 में शून्‍य घोषित किया गया है। आरोपी के खिलाफ अदालत से गिरफ्तारी वारंट भी जारी था। जिसके कारण वह सेना से भी गैरहाजिर चल रहा था।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 9425005378 पर संपर्क कर सकते हैं।

Don`t copy text!