नीरव मोदी लंदन में गिरफ्तार, पीएनबी घोटाले में 13 महीने से थी भारत को तलाश

Share

नीरव मोदी हाल ही में लंदन में सड़क पर घूमता दिखा था

लंदन। लंदन में बेखौफ घूम रहे भगोड़े नीरव मोदी पर शिकंजे में आ गया है। बुधवार को लंदन पुलिस ने नीरव मोदी को गिरफ्तार कर लिया।  इससे पहले सोमवार को ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया था। पुलिस 25 मार्च तक नीरव मोदी को कोर्ट में पेश करेगी।

दरअसल बैंकों का 13 हजार करोड़ लेकर फरार नीरव मोदी पिछले दिनों लंदन की सड़कों पर अपना लुक बदलकर बेखौफ घूमता दिखा था, जबकि उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी हो चुका है। इसके बाद ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया।

गौरतलब है कि ब्रिटेन में बेखौफ घूम रहे भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी की कभी भी गिरफ्तारी हो सकती थी। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के प्रत्यर्पण अनुरोध पर लंदन की एक अदालत ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। भारतीय बैंकों का 13 हजार करोड़ रुपये लेकर फरार हुआ नीरव मोदी पिछले दिनों लंदन की सड़कों पर हुलिया बदलकर घूमता नजर आया था। जबकि, उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी हुआ है। ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता लिया और उसके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया।

प्रत्यर्पण में लग सकता है वक़्त

सूत्रों के मुताबिक वेस्टमिंस्टर कोर्ट से गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद अब लंदन पुलिस नीरव मोदी को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, उसके भारत प्रत्यर्पण में बहुत लंबा वक्त लग सकता है। क्योंकि गिरफ्तारी के बाद उसके पास कोर्ट जाने का विकल्प होगा और कोर्ट से उसे कुछ शर्तो के साथ जमानत भी मिल सकती है।

यह भी पढ़ें:   पशुपतिनाथ समेत पांच मंदिरों में चोरी करने वाले चोर दबोचे

भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के मामले में जो प्रक्रिया चल रही है, वही प्रक्रिया नीरव मोदी के मामले में भी चलेगी। 9000 करोड़ रुपये लेकर फरार हुए माल्या के प्रत्यर्पण का मामला अब आखिरी चरण में है।

लंदन की सड़कों पर नीरव मोदी के नजर आने के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर कार्यवाही की जा रही है।

उन्होंने कहा था कि मंत्रालय ने पिछले साल अगस्त में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण का अनुरोध किया था। मंत्रालय को यह अच्छी तरह से पता है कि वह ब्रिटेन में है। ब्रिटेन के टेलीग्राफ अखबार ने हाल में अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि नीरव मोदी लंदन के पॉश सेंटर प्वाइंट इलाके के एक टॉवर ब्लॉक में तीन बेडरूप के फ्लैट में रहा है, जिसका किराया लगभग 17 लाख रुपये महीना है।

नीरव का नया लुक आया था सामने
बता दें कि यूके के एक अखबार Telegraph ने एक वीडियो जारी किया था। इस वीडियो में बताया गया कि 48 वर्षीय नीरव मोदी लंदन की सड़कों पर लुक बदलकर घूम रहा है। भारत की पहल पर इंटरपोल ने नीरव के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया हुआ है। यही नहीं, इस वीडियो में नीरव मोदी द्वारा लंदन में हीरा कारोबार चालू करने की भी बात भी कही गई है। इस वीडियो में नीरव मोदी काफी मोटा नजर आ रहा है। साथ ही उसने अपने लुक में भी बदलाव किया है। उसने अपनी मूंछों को बड़ा कर लिया है और दाढ़ी भी बढ़ाई हुई है।

यह भी पढ़ें:   Coronavirus : 14 महीने के बच्चे की मौत, नवजात की रिपोर्ट पॉजीटिव

अंग्रेजी अखबार ने नीरव मोदी के एक नए आलिशान घर का भी खुलासा किया है। मोदी के इस तीन बेडरूम वाले घर की कीमत £ 8 मिलियन लगभग (73 करोड़) बताई गई है। अखबार ने उनके एक नए व्यापार को चालू किए जाने का दावा किया है। इसमें बताया गया कि मोदी ने अपने व्यवसाय को मई 2018 में अपने घर से ही चालू किया।

भारतीय जांच एजेंसियों ने नीरव मोदी के ख़िलाफ़ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया हुआ है। प्रवर्तन निदेशालय ने 15 फ़रवरी, 2018 को पीएमएलए के प्रावधानों के तहत नीरव मोदी और अन्य के ख़िलाफ़ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था। कथित रूप से नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और अन्य लोगों ने पंजाब नेशनल बैंक के कुछ बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर बैंक के साथ धोखाधड़ी की।

Don`t copy text!