Indore Crime : बेटा अधिकारी को बैट से मारता है, पिता पत्रकारों को औकात बताता है

Indore Crime
भाजपा विधायक और कैलाश विजयवर्गीय के बेटे आकाश निगम अफसरों को बैट से मारते हुए

आकाश विजयवर्गीय को थाने से अदालत ले जाने के बीच पुलिस को करना पड़ी मशक्कत

इंदौर। इंदौर-3 (Indore Crime) से भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय के मामले ने तूल पकड़ लिया है। इस मामले में अब उनके पिता कैलाश विजयवर्गीय भी फंस गए हैं। जब बेटे की करतूत पर मीडिया ने प्रतिक्रिया मांगी तो न्यूज एंकर से कैलाश विजयवर्गीय ने ही धमकाते हुए पूछ लिया कि क्या है आपकी हैसियत। इस बयान के बाद मीडिया के घेरे में आकाश के बाद पिता कैलाश विजयवर्गीय आ गए। वे सवालों से भागते ही रहे।
जानकारी के अनुसार (Indore Crime) इंदौर के एमजी रोड थाना पुलिस ने विधायक आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ बलवे का मामला दर्ज किया। जिसके बाद उन्हें जिला अदालत ले जाया गया। ऐसा करने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करना पड़ी। थाने के बाहर भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया। इसके बावजूद कार्यकर्ता नहीं रूके। उन्होंने उस वाहन को चारों तरफ से घेर लिया जिसमें विधायक को (Indore Crime) अदालत ले जाया जाना था। काफी प्रयास के बाद भी कार्यकर्ता नहीं हटे तो वहां तैनात सुरक्षा बल को लाठी चलाकर भीड़ को खदेडऩा पड़ा। ऐसे ही हालात जिला अदालत में भी बने। अदालत में सुनवाई के बाद जमानत अथवा जेल की घोषणा को लेकर काफी गोपनीयता बरती गई। मामले ने राजनीतिक रूप ले लिया है। खबर है कि नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह समेत कई अन्य बड़े नेता गुरुवार को इंदौर पहुंच रहे हैं। इस पिटाई कांड और प्रकरण को लेकर भाजपा की तरफ से इंदौर बंद आयोजन की तैयारी की जा रही है।

यह भी पढ़ें:   BHIND CRIME : दबंगों ने महिला से ज्यादती की कोशिश की, विरोध करने पर बेरहमी से पीटा

न्यूज एंकर से ऐसी बात बोली कि बेटे के साथ—साथ पिता भी मीडिया की सुर्खियों में आ गए

YouTube video

ध्यान दें : विवाद की वजह जानना हैं तो पहले यह वीडियो देखें

Indore Crime
भाजपा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय

भागते नजर आए कैलाश विजयवर्गीय
बेटे की (Indore Crime) करतूत पर न्यूज-24 ने कैलाश विजयवर्गीय से प्रतिक्रिया के लिए फोन पर बातचीत की। जिस तरह से आकाश विजयवर्गीय ने निगम के सरकारी अधिकारी के साथ सलूक किया उससे कहीं ज्यादा खतरनाक प्रतिक्रिया कैलाश विजयवर्गीय ने दी। वह बेटे को लेकर पूछे गए सवाल पर न्यूज एंकर से कहने लगे कि आप कौन हो, जज हो क्या, आपकी हैसियत क्या है एक विधायक को लेकर इस तरह के सवाल पूछने की। इसके बाद उन्होंने आवेश में फोन काट दिया। फिर उनका सामना दिल्ली में आयोजित एक सार्वजनिक कार्यक्रम में दूसरे मीडिया चैनल से हो गया। वे (Indore Crime) बयान देने की बजाय यहां-वहां भागते नजर आए। उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी और वहां से चले गए।

Don`t copy text!