Web Series Publicity Stunt: गृहमंत्री के आदेश पर स्क्रिप्ट पढ़ ली होती तो यह न होता

Share

Web Series Publicity Stunt: आश्रम की शूटिंग के दौरान हुए बवाल के बाद सरकार में मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ही दिए थे आदेश, वेब सीरीज को हिट कराने निर्माताओं ने मीडिया के रास्ते किरकिरी तो नहीं कराई!

Web Series Publicity Stunt
यह है वह पत्रकार वार्ता जिसमें वेब सीरीज को चर्चित कराने के लिए विवादित बयान दिया या फिर दिलाया गया। इस बात को लेकर जांच की जानी चाहिए।

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल वेब सीरीज निर्माताओं के लिए मुफीद (Web Series Publicity Stunt) नजर आती है। दरअसल, इनके निर्माता—निर्देशकों को पब्लिसिटी का खर्च कम उठाना पड़ता है। वेबसीरीज रिलीज होने के पहले ही पब्लिक के बीच कौतूहल का विषय बन जाती है। हम इतनी बातें यूं ही नहीं कह रहे। आपको याद ही होगा कि आश्रम वेबसीरीज की शूटिंग में कितना हंगामा हुआ था। दोनों ही विवादों में प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा मुखर होकर सामने आए थे। उन्होंने पहले जो कहा था वह दूसरे एपिसोड में नहीं हुआ। इसका नतीजा यह है कि दोनों एपिसोड में सरकार की किरकिरी हो गई।

पुलिस जांच को करेगी बंद!

श्यामला हिल्स थाना पुलिस के अनुसार 27—28 जनवरी की दरमियानी रात लगभग डेढ़ बजे 29/22 धारा 295—ए धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का प्रकरण दर्ज किया गया है। जिसकी शिकायत सोनू प्रजापति पिता कैलाश प्रजापति उम्र 31 साल ने दर्ज कराई है। वह तलैया स्थित कुम्हारपुरा इलाके में रहता है। सोनू प्रजापति (Sonu Prajapati) बजरंग दल से भी जुड़ा है। इस मामले में आरोपी श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) को बनाया गया है। यह घटना 26 जनवरी की शाम छह बजे जहांनुमा होटल में हुई थी। आरोप है कि श्वेता तिवारी ने मीडिया के सवाल में जवाब में कहा था कि उनकी ब्रा की साइज….ले रहे हैं। इस बयान के बाद हिंदू संगठन उत्तेजित होगए थे। जिसके बाद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने पुलिस कमिश्नर मकरंद देउस्कर (CP Makrand Deauskar) को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए थे। मामला मंत्री के आदेश से जुड़ा था। इसलिए पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है। लेकिन, यह अदालत में चार्जशीट के रुप में पेश किए जाने योग्य नहीं रहेगा। उसकी वजह भी आपको आगे पढ़ने मिल जाएगी।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime News: सीएम हाउस में तैनात पुलिस अफसर को धमकी

मंत्री ने भावावेश में तो…

Web Series Publicity Stunt
नरोत्तम मिश्रा, गृहमंत्री, मप्र शासन File Photo

पाठकों और दर्शकों की मैमोरी काफी जल्दी भूलने वाली होती है। इसका फायदा राजनीति से लेकर बॉलीवुड बखूबी भुनाता है। बॉलीवुड के पास पुलिस, अपराधी, प्रेम त्रिकोण, रंजिश के अलावा कोई अन्य विषय है ही नहीं। इसलिए कई अरसे से दक्षिण भारत की रिमैक फिल्में बनाकर बॉलीवुड पैसा कमा रहा है। ऐसा नहीं है कि अच्छे विषयों की कमी है। लेकिन, वह काफी महंगे होते हैं। आश्रम की शूटिंग के बवाल के बाद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narrottam Mishra) ने ही ऐलान किया था कि फिल्म की शूटिंग के दौरान सरकार को स्क्रीप्ट देना होगी। फिर उसकी हवा श्वेता तिवारी एपिसोड में क्यों निकल गई। स्क्रीप्ट पढ़ ली होती तो भावावेश में आकर मुकदमा दर्ज कराने के आदेश देकर अपनी किरकिरी नहीं कराते। जिस वेब सीरीज में श्वेता तिवारी ने भगवान शब्द बोलकर आगे व्याख्या की है वह उसमें पात्र है। अब दूसरा सवाल यह भी खड़ा हो रहा है कि कहीं वेब सीरीज (Web Series Publicity Stunt) बनाने वालों ने योजनाबद्ध तरीके से यह इश्यू तो नहीं बनाया। बहरहाल इसमें किरकिरी सरकार की होती आगे भी दिख रही है।

यह भी पढ़ें: पुलिस कमिश्नर प्रणाली में क्या इन रसूखदार बिल्डर के खिलाफ जिनकी दर्जनों शिकायतें थाने में धूल खा रही है उसमें कार्रवाई होगी।

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Web Series Publicity Stunt
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

नोट: हमारी तरफ से पत्रकार वार्ता आयोजित करने वाली एजेंसी से संपर्क किया गया था। वहीं वेब सीरीज के प्रमुखों से भी प्रतिक्रिया का प्रयास किया गया। वे हमें उपलब्ध नहीं हो सके। इसलिए समाचार में हम उनका पक्ष नहीं दे सके हैं। आशा है यह विषय (Web Series Publicity Stunt) सार्वजनिक होने के बाद वे प्रतिक्रिया के लिए हमें समय देंगे। हम इस विषय को खारिज नहीं कर सकते हैं। इसलिए हमारी तरफ से कई विषयों पर अभी भी पड़ताल की जा रही है।

Don`t copy text!