Bhopal News: बालिका गृह से अपहरण और बलात्कार की चार नाबालिग पीड़िता भागीं

Share

Bhopal News: महिला एवं बाल विकास विभाग चलाता है केंद्र, अधीक्षक ने आवेदन भेजकर दर्ज कराई गुमशुदगी फिर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

Bhopal News
थाना कमला नगर—फाइल फोटो

भोपाल। बालिका गृह से चार नाबालिग लड़कियां भाग गईं। इसमें लापरवाही महिला एवं बाल विकास विभाग की ज्यादा है। घटना को छुपाने के लिए बालिका गृह की अधीक्षिका ने काफी प्रयास किया। जब मामला अफसरों के संज्ञान में आया तो थाने में एक महिला कर्मचारी को भेजकर गुमशुदगी दर्ज करा दी गई। यह घटना भोपाल (Bhopal News) शहर के कमला नगर थाना क्षेत्र की है। बालिका केंद्र से गायब हुई चार ल​ड़कियों में से दो विदिशा जिले से भोपाल आई थी। वहीं दो लड़कियां भोपाल शहर के अलग—अलग थानों से सुरक्षा के लिहाज से रखी गई थीं।

पुलिस के पास प्रयासों की नहीं थी जानकारी

कमला नगर (Kamla Nagar) थाना पुलिस के अनुसार यह घटना 01 जुलाई की सुबह लगभग सात बजे पता चली। जब वहां केंद्र में प्रार्थना के लिए बालिकाओं को बुलाया  गया। गिनती में चार नाबालिग कम मिली तो केंद्र में तैनात कर्मचारियों ने तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान केंद्र की खिड़की से उनके भागने का पता चला। यह कैसे खुली रह गई इस विषय पर बातचीत के लिए बालिका गृह की तरफ से कोई अधिकारी उपलब्ध नहीं हो सका। वहीं थाना प्रभारी निरुपा पांडे (TI Nirupa Pandey) ने बताया कि अगवा लड़कियां अभी नहीं मिली है। हालांकि वे पुलिस के प्रयासों को लेकर पूछे गए सवाल पर जवाब नहीं दे सकी। पुलिस ने बताया कि थाने में रिपोर्ट आकांक्षा सिंह तोमर (Akansha Singh Tomar) पति ऋाषिपाल सिंह चौहान उम्र 35 साल ने दर्ज कराई है। वह गांधी नगर स्थित एयरो सिटी कॉलोनी में रहती है। आकांक्षा सिंह तोमर केंद्र की अधीक्षिका का पत्र लेकर पहुंची थी। उन्होंने बताया कि 16 वर्षीय लापता नाबालिग को लटेरी थाने से बाल कल्याण समिति (Bal Kalyan Samiti) के आदेश पर यहां भेजा गया था। वहां उसकी गुमशुदगी फिर बहला—फुसलाकर अगवा कर ले जाने का मामला दर्ज हुआ था।

यह तीन अन्य लड़कियां भी हुई लापता

कमला नगर पुलिस ने आकांक्षा सिंह तोमर की शिकायत पर दो अन्य मुकदमे भी दर्ज किए हैं। जिसमें बताया गया कि केंद्र से 16 साल की लड़की भी गायब है। वह विदिशा (Vidisha) जिले के कोतवाली थाने में दर्ज ज्यादती के मामले की पीड़िता है। उसको बाल कल्याण समिति के आदेश पर केंद्र में लाया गया था। जबकि 16 साल की एक अन्य लड़की को छोला मंदिर थाना क्षेत्र मेंं दर्ज प्रकरण में मार्च, 2024 में केंद्र में दाखिल किया गया था। तीसरी बालिका पिपलानी (Piplani) थाना क्षेत्र से वहां भेजी गई थी। उसे बाल कल्याण समिति के आदेश पर मई, 2023 में लाया गया था।
(सुधि पाठकों से अपील, हम पूर्व में धाराओं की व्याख्याओं के साथ समाचार देते रहे हैं। इसको कुछ अवधि के लिए विराम दिया गया है। आपको जल्द नए कानूनों की व्याख्या के साथ उसकी जानकारी दी जाएगी। जिसके लिए हमारी टीम नए कानूनों को लेकर अध्ययन कर रही हैं।)

खबर के लिए ऐसे जुड़े

Bhopal News
भरोसेमंद सटीक जानकारी देने वाली न्यूज वेबसाइट

हमारी कोशिश है कि शोध परक खबरों की संख्या बढ़ाई जाए। इसके लिए कई विषयों पर कार्य जारी है। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारी मुहिम को आवाज देने के लिए आपका साथ जरुरी है। हमारे www.thecrimeinfo.com के फेसबुक पेज और यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। आप हमारे व्हाट्स एप्प न्यूज सेक्शन से जुड़ना चाहते हैं या फिर कोई घटना या समाचार की जानकारी देना चाहते हैं तो मोबाइल नंबर 7898656291 पर संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:   Bhopal Crime: डीजे वाले की दुश्मनी पड़ी दूल्हे को महंगी
Don`t copy text!